राजस्थान: मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने गिनाई धौलपुर में विकास कार्यों की लिस्ट

मुख्यमंत्री ने कहा कि 852 करोड़ रूपये लागत की धौलपुर लिफ्ट परियोजना का कार्य साल के अंत तक शुरू होने की उम्मीद है। इस परियोजना के पूरी होने से जिले में आर्थिक समृद्धि का नया दौर शुुरू होगा। उन्होंने कहा कि 100 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले जिला अस्पताल का शिलान्यास दिसम्बर में होने की सम्भावना है। नये अस्पताल के लिए 50 बीघा भूमि का आवंटन किया जा चुका है। ओदी में उपस्वास्थ्य केन्द्र भी शुरू हो गया है

0

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे शुक्रवार को राजनिवास पैलेस में आमजन और जनप्रतिनिधियों से मिली। राजे ने कहा कि पिछले 4 साल में जिले में हुए ऎतिहासिक विकास कार्य हुए हैं तथा अगले एक साल में विकास कार्यों में और तेजी लाई जायेगी। सरकार के इन विकास कार्यों तथा योजनाओं की जानकारी आमजन तक पहुंचायें। मुख्यमंत्री ने कहा कि 852 करोड़ रूपये लागत की धौलपुर लिफ्ट परियोजना का कार्य साल के अंत तक शुरू होने की उम्मीद है। इस परियोजना के पूरी होने से जिले में आर्थिक समृद्धि का नया दौर शुुरू होगा। उन्होंने कहा कि 100 करोड़ रूपये की लागत से बनने वाले जिला अस्पताल का शिलान्यास दिसम्बर में होने की सम्भावना है। नये अस्पताल के लिए 50 बीघा भूमि का आवंटन किया जा चुका है। ओदी में उपस्वास्थ्य केन्द्र भी शुरू हो गया है।

उन्होंने कहा कि धौलपुर जिले में 17 सड़कों के निर्माण के लिए 15 करोड़ रूपये से अधिक की राशि जारी की गई है। मचकुुण्ड की सफाई का कार्य 13 अक्टूबर से शुरू हो गया है। इसके जीर्णाेद्धार के लिए भी डीपीआर तैयार की जा रही है। उन्होंने कहा कि छह करोड़ रूपये की लागत से 109 विद्यालयों में मनरेगा, डांग विकास योजना के कन्वरजेंस से विकास कार्य किए जाने हैं। राजे ने कहा कि दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना में पात्र सभी परिवारों को 30 जून, 2018 तक विद्युत कनेक्शन दिये जाने का लक्ष्य है।

धौलपुर विधानसभा क्षेत्र में 48 ग्राम पंचायतों में 445 कनेक्शन दिए जा चुके हैं। जिले में 33 केवी के 15 नये जीएसएस बनने हैं जिसमें से जाटौली जीएसएस शुरू हो चुका है। सैंपऊ व सरमथुरा में नये सब डिविजन स्वीकृत हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि धौलपुर शहर में अमृत योजना में करोड़ों रूपये की लागत से सीवरेज, पेयजल, ट्रांसपोर्ट सुविधाओं पर कार्य हो रहा है। 875 लाख रूपये की लागत के मालोनी खुर्द, एनीकट का कार्य शुरू हो चुका है। 850 लाख रूपये की लागत से गढी चटौला तथा 892 लाख रूपये की लागत से सखवारा, एनीकट के निर्माण का कार्य भी जल्द प्रारम्भ होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, धौलपुर में पीजी कक्षाओं में रसायन विज्ञान, गणित तथा जूलॉजी की कक्षाएं इस साल नवम्बर माह में शुरू हो जायेंगी। महाविद्यालय में सैन्य विज्ञान विषय में कक्षायें पहले से ही शुरू हो चुकी हैं जिसमें 80 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं। इसके अलावा इंग्लिश लैंग्वेज लर्निंग लैब भी नवम्बर में शुरू हो जायेगी। इसके लिए नोएडा की एक कम्पनी से टाई-अप किया गया है।

उन्होंने कहा कि राजकीय कन्या महाविद्यालय, धौलपुर के भवन की चारदीवारी का कार्य 35 लाख रूपये की लागत से लगभग पूरा कर लिया गया है। जनसुनवाई में बड़ी संख्या में आए लोगों ने धौलपुर जिले में हो रहे विकास कार्योंं के लिए मुख्यमंत्री का आभार प्रकट किया। श्रीमती राजे ने सभी से आत्मीयता से मुलाकात की, उनकी समस्याएं सुनी और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। लोगों ने उन्हें दीपावली की शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने भी वहां उपस्थित सभी को दीपावली की शुभकामनाएं दीं। इस अवसर पर झालावाड-बारां सांसद, दुष्यंत सिंह, राजस्थान वक्फ विकास परिषद के अध्यक्ष, अब्दुल सगीर खान, राजस्थान पशुधन विकास बोर्ड के अध्यक्ष, जगमोहन सिंह बघेल, धौलपुर विधायक शोभारानी कुशवाह, बसेडी विधायक रानी सिलोटिया, जिला प्रमुख डॉ. धर्मपाल सिंह, पूर्व विधायक जसवंत सिंह गुर्जर, शिवराम कुशवाह, सुखराम कोली, मनोरमा सिंह एवं रविन्द्र सिंह बौहरा, पूर्व जिला प्रमुख दुर्गासिंह अंदाना एवं रामवती देवी, बहादुर सिंह त्यागी, भरतपुर के संभागीय आयुक्त सुबीर कुमार, आईजी भरतपुर रेंज  आलोक त्रिपाठी, जिला कलेक्टर शुचि त्यागी, पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here