Home Blog Page 73

Students of Gaurs International School welcomed PM Modi at CREDAI Youthcon 2019

0
????????????????????????????????????

20 girls students of Gaurs International Evening School, Gr Noida got an opportunity to present a welcome song for Prime Minister, Narendra Modi at CREDAI Youthcon 2019 on 13th February held at Talkatora Stadium. The PM not only appreciated their performance but also interacted with them.
Inspired by the Prime Minister’s vision of Beti Bachao Beti Padhao, the Director of Gaurs Group, Manju Gaur started this noble initiative wherein 230 girls from underprivileged families started studying and availing quality education till class 12th at par with other children at Gaurs International School in Gaur City, Greater Noida West. 
Manju Gaur, Director, Gaurs Group, said “it was a real privilege that our students got the golden opportunity to welcome the Prime Minister. It was a proud moment not only for the students but also for the Group. Our dream to educate girls and match foot with nation’s drive is taking a beautiful shape. We have the infrastructure to support this cause at the Gaur International School and we feel privileged to do something towards the social upliftment in the sphere of girls’ education. I firmly believe that if you educate a woman, you educate a family, if you educate a girl, you educate the future, Beti Padhegi toh Desh Badhega!”

delhincrnews.in reporter

IIT Roorkee, in association with Jindal Stainless, to include an elective course on stainless steel and advanced carbon special steel

0

IIT Roorkee and Jindal Stainless have recently entered into a long-term association in order to equip the bright and young minds of the country, who are on the verge of stepping into the industry, with full knowledge about stainless steel and advanced carbon special steel. This will include the study of these metals in detail, including the uniqueness of various grades, behavioural and forming characteristics, determination of life cycle cost benefit analysis, and an understanding of the entire gamut of their applications across the globe, said a press statement.

Director, IIT Roorkee, Prof Ajit Kumar Chaturvedi said: “IIT Roorkee is pleased to enter into a long-term association with Jindal Stainless Ltd on institutionalising a course on stainless steel, whereby, various aspects of the material would be covered in depth in architecture, metallurgy, and materials engineering course curricula.” Managing Director, Jindal Stainless, Abhyuday Jindal said, As an industry leader, we take the responsibility of leading India into a stainless future. This initiative hits two targets at once. One, it prepares students to deal with the metal of tomorrow. Two, it ensures that future decision makers choose the best suited material while building infrastructure. As a result, this course will positively affect public safety, environment sustainability, and economic costs in the long run.”

Director, Jindal Stainless, S Bhattacharya added, Stainless steel is a young and green metal with ample potential for growth. In India, it is still at a nascent stage, with a per capita consumption of 2 kg, as compared to the global average of 6 kg. Here, it is synonymous with cookware and kitchenware, while in more developed economies, the metal is widely used in segments such as architecture-building-construction, automobile-railway-transport, and process industries, among others. By collaborating with the academia, our intent is to drive awareness among the future engineers and architects of the country.”

Today, stainless steel, along with other special steel, is the fastest growing metal globally. As a part of this association, IIT Roorkee has decided to institutionalise a 3 credit elective course on stainless steel and advanced carbon special steel for the 4th year B. Tech and PG students of the Department of Metallurgical & Materials Engineering.  Primary objective of the programme is to create awareness about stainless steel and advanced carbon special steel among the graduating students. The duration of this 3 credit elective course will be 3.5 months, with 3 lectures and 1 tutorial schedule per week. The course is expected to commence from July 2019.

Apart from the elective course in Department of Metallurgical and Materials Engineering, Architecture & Planning Department of IIT Roorkee will be introducing courses on stainless steel modules in March 2019. They will be included in core subjects on “Modern World Architecture”, focusing on the history and evolution of stainless steel, uniqueness of its different grades, and a detailed understanding of its entire gamut of applications across the globe, including architecture, building and construction. Added to this are courses on “high-rise buildings” and “Design Studio” focusing on the advanced technologies being adopted for construction of stainless steel mega structures, with a detailed understanding of its joinery characteristics with other materials.

The course curricula shall also feature a hands-on experience on fabrication with stainless steel in the form of plant visits for the students at various manufacturing units of Jindal Stainless in Hisar and Pathredi in Haryana.  These courses will help the graduating students to acquire deep knowledge and experience on stainless steel, and be future ready for the professional world.

-delhincrnews.in reporter

G’bad Dev. Authority frees Rs 40 cr land at Gyan Khand from alleged squatters

0

A team of Ghaziabad Development Authority (GDA) freed land worth Rs 40 crores from squatters in Gyan Khand-3 area of Indirapuram, said a source. The prime piece of land has been allegedly encroached upon by shopkeepers and some persons who had built houses on them. The drive continued till evening. The encroachments were allegedly done since the last 20 years along Shukra Bazar road.

-delhincrnews.in reporter

Ghaziabad: Wanted criminal carrying Rs 15 k reward held at Indirapuram

0

A team of Indirapuram cops led by SI Ramgopal Singh arrested one notorious thief carrying Rs 15,000 reward on his head. The accused had previously been to jail in a similar crime in 2016, said SP City, Shlok Kumar. The accused Sahin told police that he and his accomplices recced locked houses in Delhi-NCR and would break into such houses and decamp with valuables. They also posed as housekeeping staff to make a recce. He has been found to be involved in more than 1.5 dozen such thefts.

delhincrnews.in reporter

गाजियाबाद: मन की बात मोदी जी के साथ कार्यक्रम के तहत एक सुझाव पेटिका जनता के बीच भेजी गई

0

भाजपा द्वारा मन की बात मोदी जी के साथ कार्यक्रम के तहत एक सुझाव पेटिका जनता के बीच भेजी गई है सुझाव पेटिका में आम जनता अपने मन की बात सुझाव के रूप में सिहानी गेट बाजार में रखी गई है जिसमें जनता अपने सुझाव दे सकते हैं सुझाव सीधे संगठन व सरकार के पास जाएंगे इस अवसर पर संजीव शर्मा शहर विधानसभा प्रभारी वे राजेंद्र यादव संयोजक व महामंत्री महामंत्री राजीव अग्रवाल मंडल अध्यक्ष राकेश त्यागी कलुआ कश्यप सुशील जांगिड़ सुरेंद्र पाल पार्षद अरुण जैन व देवेंद्र भारती प्रदीप चौहान विस्तारक रोहित मुखिया उपस्थित रहे।

Uttar Pradesh: Illicit liquor seized at Sant Kabir Nagar; 3 held with 25 litres

0

In its continuing efforts against illicit liquor Sant Kabir Nagar Police arrested 3 accused with 25 litres of illicit liquor. They are namely Rohit Prasad, Premchand and  Shailani Nishad. The first 2 accused were held by a team of Dudhara Police Station while the 3rd was held by Dhanghata cops. They have been booked under the Excise Act.

-By Staff Reporter

गुरूग्राम: भ्रूण की लिंग जांच करने वालों को पकड़वाने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा- उपायुक्त

0

उपायुक्त अमित खत्री ने आज जिला में बेटी बचाओ-बेटी पढाओ अभियान की समीक्षा की, जिसमें बताया गया कि गुरूग्राम जिला में सन् 2015 में जब से यह अभियान शुरू हुआ तब से लेकर अब तक निरंतर सुधार देखा गया है। जनवरी 2019 में जन्म के समय लिंग अनुपात 947 दर्ज किया गया है जबकि 2014 में जिला का लिंग अनुपात 843 था। 

उपायुक्त कार्यालय मंे आयोजित इस बैठक में सिविल सर्जन डा. बी के राजौरा ने उपायुक्त को अवगत करवाया कि गुरूग्राम जिला में पीसी पीएनडीटी एक्ट को कड़ाई से लागू किया जा रहा है। भ्रूण की लिंग जांच करने वालो को पकड़ने के लिए टीमें गठित की हुई हैं। उपायुक्त ने कहा कि भ्रूण की लिंग जांच करने वालों को पकड़वाने वालों को पुरस्कृत किया जाएगा, उन्हें जिला प्रशासन की तरफ से इन्सेन्टिव दिए जाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि जिला में लिंग अनुपात में सुधार के लिए जो भी कदम उठाने की आवश्यकता होगी, वह गुरूग्राम प्रशासन उठाएगा। इस कार्य में चिकित्सकों की एसोसिएशनांे जैसे आईएमए आदि का भी सहयोग लिया जाएगा।  

डा. राजौरा ने बताया कि जिला में 221 अल्ट्रासाउंड केंद्र संचालित किए जा रहे हैं, जिनकी समय-समय पर चैकिंग की जाती है। इनमें 6 अल्ट्रासाउंड केंद्र सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में लगे हैं। उन्होंने बताया कि भ्रूण की लिंग जांच करने वालों पर छापेमारी के लिए पिछले चार साल में जिला में 35 रेड मारी गई। इसके परिणामस्वरूप 23 मामले पीएनडीटी एक्ट के अंतर्गत तथा 12 मामले एमटीपी एक्ट के तहत दर्ज करवाए गए हैं जो विभिन्न न्यायालयों में चल रहे हैं। 

इस बैठक में जिला में पीसी-पीएनडीटी एक्ट को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए गठित जिला एडवाईजरी कमेटी के सदस्यगण, सिविल सर्जन डा. बी के राजौरा, जिला परियोजना अधिकारी  सुनैना, वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डा. नवल किशोर, ड्रग कंट्रोलर अमनदीप चैहान, जिला न्यायवादी भी उपस्थित थे।

Sandeep Siddhartha, Senior Reporter

गुरूग्राम: अंतोदय सरल केंद्र से एक छत के नीचे 37 सरकारी विभागों की 450 से अधिक योजनाओं का लाभ- उपायुक्त

0

उपायुक्त अमित खत्री ने आज कहा कि जिला में अंतोदय सरल केंद्र के माध्यम से एक छत के नीचे 37 सरकारी विभागों की 450 से अधिक योजनाओं का लाभ दिया जा रहा है। किसी व्यक्ति को यदि यह भी नहीं पता कि वह सरकार की किस योजना का लाभ लेने के लिए पात्रता रखता है, तो वह भी अंतोदय सरल केंद्र में जाकर इसके बारे में पता कर सकता है तथा वहीं पर उस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन भी कर सकता है। 

खत्री ने यह जानकारी आज लघु सचिवालय के सभागार मंे आयोजित संवाददाता सम्मेलन में दी। उन्होंने मीडिया प्रतिनिधियों से भी अंतोदय सरल केंद्रों को आम जनता मे लोकप्रिय बनाने का आग्रह किया और कहा कि यह सरकार की बहुत अच्छी पहल है जिसके अंतर्गत व्यक्ति को अब अलग-अलग सरकारी विभागों में जाने की जरूरत नहीं है, बल्कि वह अंतोदय सरल कंेद्र में जाकर अपनी पात्रता के हिसाब से आवेदन कर सकता है। 

मीडिया प्रतिनिधियों के सवालांे का जवाब देते हुए खत्री ने कहा कि अब सभी सरकारी विभागों के अधिकारियांे को भी यह निर्देश दिए गए हैं कि वे उनके विभाग के माध्यम से चलाई जा रही  योजनाओं का लाभ लेने के लिए लोगों को सरल केंद्र में ही जाकर आवेदन करने के लिए कहंे। आवेदकों को कार्यालय में आवेदन करने से डिस्करेज करें ताकि वे सरल केंद्र का पूरा लाभ उठा सकें। उन्होंने बताया कि प्रत्येक सरल केंद्र पर व्यक्ति को जाते ही टोकन दिया जाता है और उस टोकन का नंबर आते ही वह संबंधित काउंटर पर जाकर अपना आवेदन कर सकता है । प्रत्येक काउंटर पर हर प्रकार के फार्म भरने की सुविधा उपलब्ध है। 

उन्होंने बताया कि गुरूग्राम जिला में अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय के पास अंतोदय भवन में सरल केंद्र चल रहा है। इसी प्रकार लघु सचिवालय के ग्राउंड फलोर पर हाॅल नंबर एक में सरल केंद्र का संचालन किया जा रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि एसडीएम सोहना के कार्यालय परिसर में, पटौदी लघु सचिवालय में, मानेसर में तहसील कार्यालय में तथा फरूखनगर में तहसील कार्यालय के प्रथम तल पर अंतोदय सरल केंद्र चलाए जा रहे हैं। उपायुक्त ने कहा कि इन केंद्रों पर जाकर सरकार की स्कीमों का लाभ प्राप्त किया जा सकता है। 

खत्री ने यह भी बताया कि घर बैठे भी आॅनलाईन अंतोदय सरल पोर्टल पर जाकर सरकार की विभिन्न स्कीमों के तहत आवेदन किया जा सकता है। इस पोर्टल पर व्यक्ति को स्वयं अपना यूजर आईडी तथा पासवर्ड बनाना होगा। आवेदन के बाद वह अपने आवेदन का स्टेटस भी पोर्टल पर चैक कर सकता है। 

Sandeep Siddhartha, Senior Reporter

गुरुग्राम: न्यायधीश सतीश कुमार मित्तल ने बंधवाड़ी गाँव स्थित अनाथ वृद्ध आश्रम का किया दौरा

0

हरियाणा मानव आयोग के अध्यक्ष न्यायधीश सतीश कुमार मित्तल ने बंधवाड़ी गाँव स्थित दि अर्थ सेवियर्स फ़ाउंडेशन के अनाथ वृद्ध आश्रम का आकस्मिक दौरा किया।
दुखियों , बेसहारा, असहाय , वृद्ध , अबला महिलाएँ व लाइलाज बीमारियों से ग्रस्त व्यक्तियों की सेवा में समर्पित एनजीओ दी अर्थ सेवियर्स फ़ाउंडेशन के बंधवाड़ी गाँव स्थित संस्था का हरियाणा मानव आयोग के अध्यक्ष न्यायधीश श्री सतीश कुमार मित्तल जी ने दिनांक 20 फरवरी 2019 को आकस्मिक दौरा किया । न्यायधीश श्री सतीश कुमार मित्तल राजस्थान राज्य के मुख्य चीफ़ जस्टिस के पद पर भी रह चुके हैं।
इस दौरान उनके साथ सबरजिस्ट्रार एस. सी. गोयल व रेड क्रॉस सचिव श्याम सुंदर शर्मा भी उपस्थित थे। मानव आयोग अध्यक्ष ने संस्था में रह रहे सभी बेसहारा लोगों से बातचीत की और उनके दुख दर्द व कठिनाइयों के बारे में विस्तार से जानकारी ली। संस्था के संस्थापक व प्रधान रवि कालरा ने न्यायधीश को बताया की संस्था में 500 बेसहारा लोग  रहते हैं । जिन्हे विभिन्न राज्यों की पुलिस , विभिन्न न्यायलय व सरकारी अस्पतालों के द्वारा संस्था में भर्ती करवाया जाता है । संस्था में सभी बेसहारा लोगों के लिए रहना, खाना, चिकित्सा व रोजमर्रा की सुविधाएँ निःशुल्क उपलब्ध कारवाई जाती हैं।
इस दौरान रवि कालरा ने मुख्य न्यायधीश से सरकारी जमीन संस्था को उपलब्ध करवाने की गौहार भी लगाई और बताया की संस्था पिछले दस वर्षों से सरकारी जमीन के अलॉटमेंट के लिए सरकारी विभागों में चक्कर काट रही है । संस्था में 200 बेसहारा लोगों के रहने का प्रबंध है लेकिन यंहा 500 से भी ज्यादा लोग रहने को मजबूर हैं इस वजह से तृक्षण बदबू (गंद ), गंदगी व अशांति का माहौल बना रहता है । रवि कालरा ने बताया की अगर सरकारी जमीन छळव्  संस्था को अलॉट कर दी जाती है तो संस्था हरियाणा में विश्व का सबसे बड़ा मानव कल्याण संस्था बनाना चाहती है। जिसमे एक हजार से ज्यादा बेसहारा लोगों के लिए रहना, खाना , अस्पताल व पुलिस कंट्रोल रूम बनवाया जाएगा।
रवि कालरा ने बंधवाड़ी गाँव वासियों के उत्थान के लिए न्यायधीश से गाँव के बाहर मेट्रो स्टेशन बनने की गौहार भी लगाई । इसी उपलक्ष्य में श्री सतीश कुमार मित्तल ने एनजीओ गुरुकुल के पास मे स्थित राजकीय उच्चतम माध्यमिक वि।ालय बंधवाड़ी गाँव का दौरा भी किया।

इस दौरान न्यायधीश सतीश कुमार मित्तल ने अपने हाथों से संस्था में रह रहे सभी गरीब लोगों को चादरें, कपड़े, व्हीलचेयर्स, भोजन, फल व मिठाई का वितरण भी किया और संस्था में हो रही मानव कल्याण कार्यों की सराहना की । न्यायधीश ने इस संस्था के स्टाफ के जाबांज कार्यकर्ताओं से बातचीत भी की और दी अर्थ सेवियर्स फ़ाउंडेशन एनजीओ को हर संभव प्रशासनिक सहयोग देने का आश्वासन भी दिया।

delhincrnews.in reporter

Defence PSU BEL launches atmospheric water generator safe drinking water- from air

0

Navratna Defence PSU Bharat Electronics Ltd (BEL) has unveiled its new product, the Atmospheric Water Generator (AWG), an innovative solution to meet the ever-increasing need for drinking water worldwide, today at Aero India 2019.

Chief of the Army Staff General Bipin Rawat, inaugurated the AWG in the presence of, Chairman and Managing Director BEL, MV Gowtama, Directors and other senior officers of BEL.

BEL’s Atmospheric Water Generator can be used to generate water straight from the humidity present in the atmosphere. The day is not far when drinking water becomes the most precious commodity on the planet. Groundwater, currently the main source of drinking water, is being depleted at alarming and unsustainable rates even as the search for alternate water sources continues.

BEL’s Atmospheric Water Generator employs a novel technology to extract water from the humidity present in the atmosphere and purify it. It uses heat exchange for condensing the atmospheric moisture to produce pure, safe and clean potable water. The AWG comes with a Mineralisation Unit, which is used to add minerals which are required to make the water potable. The AWG is configurable in static and mobile (vehicular) versions and is available in 30 litres/day, 100 litres/day, 500 litres/day and 1,000 litres/day capacities.

The Atmospheric Water Generator can be used to provide drinking water in community centres and public places like health care centres, schools, colleges, offices, railway stations, bus stands, airports, sea ports, off-shore oil rigs, military establishments, remote field areas and remote establishments and residential complexes.

The Atmospheric Water Generator is being manufactured by BEL in collaboration with CSIR-IICT and MAITHRI, a start-up company based in Hyderabad. It is on display at the BEL stall at Hall-E at Aero India 2019. BEL has, as part of the Government of India’s Start-up India Initiative, extending its support to start-up Companies.