गुरुग्राम: शिक्षा और स्किल सीख कर युवा भारत को दुनिया में कंपीट करने वाला देश बना सकते हैं- अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा

विश्व युवा स्किल दिवस के अवसर पर गुरुग्राम के सेंटर फॉर वेलफेयर ऑफ स्पीच एंड हियरिंग इंपेयर्ड में कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें जिला के अतिरिक्त उपायुक्त मोहम्मद इमरान रजा मुख्य अतिथि थे। उन्होंने अपने अध्यक्षीय संबोधन में कहा कि युवाओं का देश की उन्नति में बड़ा हिस्सा है इसलिए सफल विद्यार्थियों से प्रेरणा लेकर जिला के युवा आज के दिन संकल्प ले कि उन्हें पढ़ना है, स्किल्स लेने हैं और आगे बढ़ना है।उन्होंने कहा कि भारत का डेमोग्राफिक डिविडेंट अर्थात जनसांख्यिकीय लाभांश ज्यादा है जिसका मतलब है कि हमारे देश की उन्नति में युवाओं का बड़ा हिस्सा है। उन्होंने कहा कि शिक्षा और स्किल सीख कर हमारे युवा, भारत को दुनिया में कंपीट करने वाला देश बना सकते हैं। यही युवा अगर शिक्षित और कुशल नहीं बनेगा तो गलत रास्ते पर जा सकता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी यही सपना है कि देश के युवा शिक्षित बने, हुनरमंद बने और देश को उन्नति के शिखर पर ले जाएं।इस मौके पर आईटीआई गुरुग्राम की प्राचार्य गीता आर सिंह ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए बताया कि गुरुग्राम की आईटीआई में 29 ट्रेड चलाए जा रहे हैं और वर्तमान में इसमें विद्यार्थियों की संख्या 1404 है। उन्होंने बताया कि गुरुग्राम जिला में 6 सरकारी आईटीआई तथा 2 प्राइवेट आईटीआई हैं।

गुरुग्राम आईटीआई को मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड ने अडॉप्ट कर रखा है जिसने यहां पर 10 वर्कशॉप स्थापित करके विद्यार्थियों की ट्रेनिंग में सहयोग दिया है तथा कंपनी द्वारा प्लेसमेंट में भी मदद दी जा रही है।आज के कार्यक्रम में आईटीआई पास विद्यार्थियों को सबसे ज्यादा अप्रेंटिस रखने वाले सरकारी विभागों तथा कंपनियों को सम्मानित किया गया। सरकारी विभागों में गुरुग्राम पुलिस, डीएचबीवीएन, हरियाणा राज्य परिवहन, हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लिमिटेड शामिल है जबकि कंपनियों में हीरो मोटोकॉर्प लिमिटेड, एसपीएम ऑटोकंप सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड, मिंदरीका प्राइवेट लिमिटेड, प्रेम मोटर्स प्राइवेट लिमिटेड, दीवानिया मेडिकल डिवाइसेज प्राइवेट लिमिटेड शामिल है। रोजगार विभाग की ओर से सक्षम युवा कार्यक्रम में बेरोजगार युवाओं को अपने यहां रखने वाले विभागों के अधिकारियों को भी सम्मानित किया गया। इनमें पशुपालन विभाग, जिला सांख्यिकी विभाग तथा जन स्वास्थ्य अभियंत्रिकी विभाग शामिल थे।इसके अलावा, ड्यूल सिस्टम ऑफ ट्रेनिंग स्कीम के तहत एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए। आईटीआई गुरुग्राम द्वारा 4 कंपनियों के साथ एमओयू किए गए हैं जिनमें रिको ऑटो इंडस्ट्रीज लिमिटेड, रिको एलमुनियम एंड फेरस ऑटो कॉम्पोनेंट्स लिमिटेड, मुंजाल शोवा लिमिटेड आईएमटी मानेसर तथा मुंजाल शोवा लिमिटेड गुरुग्राम शामिल है। आईटीआई सोहना द्वारा दो एमओयू किए गए हैं जो सुब्रोस लिमिटेड तथा जेबीएम ऑटो लिमिटेड के साथ किए गए।

कंपनियों के प्रतिनिधियों ने संबंधित आईटीआई के प्राचार्य के साथ एमओयू एक्सचेंज किए।कार्यक्रम में आईटीआई गुरुग्राम के तीन पूर्व विद्यार्थियों ने अपनी सफलता की कहानी शेयर की। 2007 से 2009 के बीच यहां से मोटर मैकेनिक व्हीकल ट्रेड में आईटीआई करने वाले संजय सिंह ने बताया कि वह विश्व की टॉप 10 एमएनसी में काम कर चुका है और फिलहाल साइबर सिटी में विश्व की नंबर 1 कंपनी में सवा लाख मासिक के वेतन पर काम कर रहा है। इसी प्रकार, सन 2010 में इलेक्ट्रिशियन ट्रेड में आईटीआई करने वाले राकेश ने बताया कि वह डीएलएफ में एक साइट पर इंजीनियरिंग असिस्टेंट मैनेजर के तौर पर काम कर रहा है और 2010- 11 में ट्रैक्टर मैकेनिक ट्रेड में आईटीआई करने वाले जसबीर कुमार ने बताया कि वह मारुति सुजुकी इंडिया लिमिटेड में 80,000 रुपए की सैलरी पर काम कर रहा है।इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया और वहां विद्यार्थियों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन किया। वेलफेयर सेंटर फॉर स्पीच एंड हियरिंग इंपेयर्ड की असिस्टेंट डायरेक्टर डॉ सीमा ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम में मंडल रोजगार अधिकारी सुरेंद्र मोर, जिला उद्योग केंद्र के संयुक्त निदेशक आईएस यादव, ऋषि राम, शुभकरण सहित कई कंपनियों के प्रतिनिधि उपस्थित थे। सेंटर फॉर वेलफेयर ऑफ हियरिंग एंड स्पीच इंपेयर्ड के विद्यार्थियों ने संकेत भाषा में राष्ट्रीय गान प्रस्तुत किया जो सभी के लिए आकर्षण का केंद्र था।

Sandeep Siddhartha, Senior Reporter