सदर्न पैरिफेरल रोड़ (एसपीआर) को सुदृढ़ किया जाएगा और वाटिका चैक से लेकर गोल्फ कोर्स रोड़ तक इसमें अंडरपास तथा तीन फलाईओवर बनाए जाएंगे। यह निर्णय मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में आयोजित गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण (जीएमडीए) की बैठक में लिया गया। बैठक में बताया गया कि दिल्ली-जयपूर रोड़ से वाटिका चैक तक का एसपीआर का हिस्सा खराब स्थिति में है तथा वाटिका चैक से लेकर घाटा गांव तक का हिस्सा भी अर्ध विकसित है। इस पर ट्रैफिक आवागमन का सर्वे करवाने पर पाया गया कि वर्तमान में इस पर लगभग 3,600 वाहन प्रति घंटा गुजरते हंै और वाहनों के दबाव को देखते हुए इसको चैड़ा व सुदृढ़ करने की आवश्यकता है।

बैठक में निर्णय लिया गया कि इस मार्ग पर वाटिका चैक तथा सैक्टर 55/56 के चैराहे पर दो अंडरपास बनाए जाएंगे और राजेश पायलेट चैक, तिगरा मोड़ तथा सैक्टर 49/50/65/66 चौराहों पर तीन फ्लाईओवर बनेंगे। इन सभी कार्यो पर लगभग 281.86 करोड़ रूपए की लागत आएगी। प्राधिकरण के सभी सदस्य इस बात पर एक मत थे कि यह एसपीआर गुरूग्राम शहर की मुख्य सड़क है और इसको सुदृढ़ और चौड़ा करना अत्यंत आवश्यक है ताकि राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों का दबाव कम हो सके।
इस बैठक में केंद्रीय योजना, रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह, हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह, हरियाणा के परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार, गुरूग्राम के विधायक उमेश अग्रवाल, सोहना के विधायक तेजपाल तंवर, गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण के सीईओ तथा मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव वी उमाशंकर , मुख्यमंत्री के मीडिया
सलाहकार अमित आर्य, गुरूग्राम की मेयर मधु आजाद,  जिला परिषद के चेयरमैन कल्याण सिंह चैहान, नगर निगम की सीनियर डिप्टी मेयर परमिला गजे कबलाना, शहरी स्थानीय निकाय के प्रधान सचिव आनंद मोहन शरण, डीएलएफ के वाईस चेयरमैन राजीव सिंह, मेदांता द मैडिसिटी से डा. नरेश त्रेहन, मेक माई ट्रिप से दीप कालरा, सूकैम पाॅवर सिस्टम्स लिमिटिड से कुवर सचदेवा, बिजली विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टी सी गुप्ता, पर्यावरण विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव धीरा खंडेलवाल, मण्डलायुक्त मोहम्मद साईन, पुलिस आयुक्त मोहम्मद अकिल, उपायुक्त अमित खत्री, जीएमडीए के अतिरिक्त सीईओ उतम सिंह व नरेश नरवाल उपस्थित थे जबकि वित विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टी वी एस एन प्रसाद, ट्रांसपोर्ट विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव धनपत सिंह, नगर एवं ग्राम योजनाकार विभाग के प्रधान सचिव ऐ के सिंह, लोक निर्माण विभाग के इंजीनियर इन चीफ राकेश मनोचा ने चण्डीगढ मुख्यालय से वीडियों कान्फे्रंसिंग के माध्यम से  उपस्थिति दर्ज करवाई।

Sandeep Siddhartha, Senior Reporter



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here