गुरूग्राम के नवनियुक्त उपायुक्त अमित खत्री ने आज सड़क सुरक्षा को लेकर अधिकारियों की बैठक ली और उन्हें आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। आज आयोजित बैठक में सड़क सुरक्षा को लेकर 14 बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई।  आज आयोजित बैठक में एमजी रोड़ सहित जिला की विभिन्न सड़कों पर बने पिडेस्ट्रीय रोड़ क्राॅसिंग को लेकर विस्तार से चर्चा की गई। रोड़ सेफटी असोसिएट (आरएसए) गुरप्रीत ने उपायुक्त को पावर प्वाइंट प्रैजेंटेशन के माध्यम से शहर की ऐसी मुख्य सड़कों की फोटो दिखाई जिस पर पिडेस्ट्रीयन क्रांसिंग पर काफी अनियमितताएं हैं। उपायुक्त ने आरएसए को निर्देश देते हुए कहा कि वे जिला में ऐसी सड़कों की सूची तैयार करें जहां लोगों को पिडेस्ट्रिीयन क्रांसिंग पर परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसके अलावा, सहारा माॅल के सामने,एमजी रोड़, सैक्टर-17-18 के सामने, सुभाष चंद्र मार्ग व ओल्ड दिल्ली रोड़ पर सड़कों पर बने अवैध कटों को लेकर भी चर्चा की गई। सहारा माॅल के सामने बने अवैध कट पर निर्देश देते हुए उपायुक्त ने कहा कि संबंधित विभाग वहां स्पीड टेबल बनवाना सुनिश्चित करें ताकि वहां से गुजरने वाले लोग दुर्घटना ग्रस्त ना हो। उपायुक्त ने गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण(जीएमडीए)व हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को इस संबंध में आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

अधिकारियों से ई-मेल पते के माध्यम से जिला प्रशासन ने मांगे सड़क सुधार के सुझावआज आयोजित बैठक में सड़कों को सुरक्षित बनाने के लिए एक और ऐतिहासिक पहल की गई। बैठक में उपायुक्त अमित खत्री ने सड़कों को सुरक्षित बनाने के लिए अधिकारियों से सुझाव मांगे और कहा कि सड़कों को आम नागरिकों के लिए सुरक्षित बनाना हमारा उत्तरदायित्व है। उन्होंने कहा कि यदि किसी के पास इस संदर्भ में कोई महत्वपूर्ण सुझाव है तो वे जिला प्रशासन के ई-मेल पते- हनतनहतंउतवंकेंमिजल/हउंपसण्बवउ पर भेज सकते हैं। इस ई-मेल पते पर आने वाले अच्छे सुझावों को अमल में लाया जाएगा। बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त मौहम्मद इमरान रजा ने कहा कि इस नई पहल को सफल बनाने के लिए अपने सुझाव अवश्य दें ताकि जिला की सड़कों को यात्रियों के लिए और अधिक सुरक्षित बनाया जा सके। इसके अलावा, बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि संबंधित विभाग के अधिकारी आज आयोजित बैठक में रखे गए सभी बिंदुओं की एक्शन टेकन रिपोर्ट अगली बैठक में फोटो सहित लाएं। इसके साथ ही, बैठक में उपस्थित सभी एसडीएम को निर्देश दिए गए कि वे अगली बैठक में अपने उप-मंडल से संबंधित सड़क सुरक्षा को लेकर कम से कम दो बिंदु अवश्य रखें। बैठक में मेदंाता से दिल्ली जाने के लिए बनाए गए अंडरपास को लेकर भी चर्चा की गई। इस अंडरपास में अंधेरा होने के कारण वहां दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। उपायुक्त ने एनएचएआई के अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे अंडरपास में 24 घंटे लाइट की व्यवस्था सुनिश्चित करें। बैठक में यह भी बताया गया कि  दिल्ली से गुरूग्राम आते हुए सरहौल टोल तक हाई माॅस्क लाइटें बंद रहती है जिसके कारण वहां से गुजरने वाले यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस पर उपायुक्त ने एनएचएआई के अधिकारियों को हाई मास्क लाइटें चलवाने के निर्देश दिए। आज आयोजित बैठक में गुरूग्राम के उपायुक्त अमित खत्री के अलावा, अतिरिक्त उपायुक्त मौहम्मद इमरान रजा तथा सोहना की एसडीएम चिनार चहल भी उपस्थित थी। 


delhincrnews.in reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here