गुरूग्राम: पालम विहार के सी ब्लाॅक में सीवरेज के बैक मारने की समस्या का समाधान करने के आदेश

0
1

हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने गुरूग्राम महानगर विकास प्राधिकरण, नगर निगम तथा लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की एक संयुक्त बैठक बुलाकर पालम विहार के सी ब्लाॅक में सीवरेज के बैक मारने की समस्या का समाधान करने के आदेश दिए।

पालम विहार क्षेत्र के कुछ लोग उनके घरों में सीवरेज आॅवरफलो की समस्या को लेकर लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह से मिले थे। इन लोगों ने राव नरबीर सिंह को शिकायत की थी कि बजघेड़ा आरओबी निर्माण के समय सीवरेज लाईन शिफट की गई थी, जिसके बाद सीवरेज बैक मार रहा है जिसकी वजह से घरों में सीवरेज ओवरफलो की समस्या आ रही है। इस बारे में राव नरबीर सिंह ने संयुक्त बैठक बुलाकर संबंधित अधिकारियों से जवाब तलब किया। राव नरबीर सिंह को बताया कि गया कि बजघेड़ा में रेलवे ओवरब्रिज बनाने के समय लोक निर्माण विभाग द्वारा जीएमडीए की देखरेख में सीवरेज की लाईने शिफट की गई। इसके सुपरविजन के लिए लोक निर्माण विभाग द्वारा जीएमडीए में
38 लाख रूपए की राशि जमा भी करवाई गई थी। लोक निर्माण विभाग में सुपरविजन में काम करने संबंधी दस्तावेज मंत्री के सामने प्रस्तुत किए। सीवरेज बैक मारने का एक अन्य संभावित कारण यह भी बताया गया कि  जीएमडीए द्वारा
मास्टर सीवरेज लाईन की गाद निकालने का कार्य चल रहा है, हो सकता है लाईन में गाद ज्यादा इक्कट्ठी होने की वजह से भी सीवरेज का पानी आगे नहीं जा पा रहा हो।

जीएमडीए के अधिकारियों ने राव नरबीर सिंह को आश्वस्त किया कि सीवरेज सफाई का यह कार्य 31 मार्च तक पूरा कर लिया जाएगा। सभी पक्षों को सुनने के बाद राव नरबीर सिंह ने जीएमडीए के अधिकारियों को आदेश दिए कि वे 18 फरवरी तक सीवरेज लाईन का लैवल दोबारा से चैक करें। यदि लैवल ठीक पाया जाता है तो लोक निर्माण विभाग 28 फरवरी तक वहां पर सड़क बना देगा, अन्यथा पहले लैवल को ठीक किया जाएगा। लोक निर्माण मंत्री ने ये भी
आदेश दिए हैं कि अंसल के रिहायशी क्षेत्र की सीवरेज लाईन को मास्टर सीवरेज लाईन में जुड़वाने का कार्य जीएमडीए करवाए, जिसके लिए धनराशि लोक निर्माण विभाग जमा करवाएगा। इस बैठक में बताया गया कि उस क्षेत्र में दो
सीवरेज लाईन थी, जिनकी मोटाई आरओबी निर्माण के समय शिफिटंग के दौरान बढाकर एक हजार एमएम कर दी गई है।

इस संयुक्त बैठक में राव नरबीर सिंह ने कहा कि सभी ऐजेंसियां आपसी तालमेल के साथ काम करें और लोगों को राहत पहंुचाने के राज्य सरकार के संकल्प को पूरा करने में सहयोग दें। उन्होंने कहा कि मनोहर सरकार आम जनता को उनके
घर द्वार पर सुविधाएं उपलब्ध करवाकर राहत पहुंचाना चाहती है और इस दिशा में बहुत से काम किए गए हैं। उन्होंने आशा जताई कि जीएमडीए, नगर निगम तथा पीडब्ल्यूडी के अधिकारी आपसी सामजस्य के साथ काम करके पालम विहार वासियों की समस्या का जल्द समाधान कर लंेगे। इस बैठक में जीएमडीए के अतिरिक्त सीईओ नरेश नरवाल, नगर निगम के मुख्य अभियंता एन डी वशिष्ठ, लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता चंद्र मोहन भी थे।

 

delhincrnews.in reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here