गुरूग्राम: रक्षा विश्वविद्यालय की स्थापना की सभी औपचारिकताएं हो चुकी पूरी- राव इंद्रजीत सिंह

0
1

केंद्रीय, योजना, रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि गुरूग्राम जिला के गांव बिनौला में बनाए जाने वाले रक्षा विश्वविद्यालय की स्थापना की सभी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं और प्रस्ताव आगामी कैबिनेट बैठक में रखा जाएगा। केंद्रीय कैबिनेट मंे प्रस्ताव पारित होने के बाद इस विश्वविद्यालय के निर्माण की प्रक्रिया शुरू होगी।

राव इंद्रजीत सिंह गुरूग्राम जिला के गांव जोड़ी सांपका में शहीद स्मारक एवं प्रतिमा अनावरण कार्यक्रम के बाद मीडिया प्रतिनिधियों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने बताया कि रक्षा विश्वविद्यालय के मामले में यह विचार चल रहा था कि इसमें डिफेंस के ही नहीं अपितु सिविलियन प्रोफेसर भी हों, अब उसका प्रस्ताव तैयार हो चुका है जिसे केंद्रीय कैबिनेट की आगामी बैठक में रखा जाएगा। केंद्रीय कैबिनेट की मोहर लगने के बाद इस विश्वविद्यालय के निर्माण की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 12 फरवरी को कुरूक्षेत्र आ रहे हैं, उनकी कोशिश रहेगी कि उसी दिन प्रधानमंत्री के हाथों मनेठी एम्स अस्पताल की आधारशिला भी रखवा ली जाए ताकि लोकसभा चुनाव की घोषणा से पहले इसका निर्माण कार्य शुरू किया जा सके। रेवाड़ी जिला के मनेठी में हाल ही में केंद्र सरकार द्वारा देश का 22वां एम्स मंजूर किया गया है। राव इंद्रजीत सिंह ने यह भी कहा कि गांव मनेठी में एम्स बनाने को
लेकर वहां के लोग धरने पर बैठे हुए हैं और मंगलवार को वहां पर जाकर वे उन लोगों को धरना खत्म करवाएंगे क्योंकि जब उनकी मांग ही पूरी हो गई है तो धरने का कोई औचित्य नहीं रह जाता।

उन्होंने गांव जोड़ी सांपका में शौर्यचक्र से सम्मानित शहीद नायक तेज सिंह तथा शहीद सिपाही बलराम की प्रतिमाओं का अनावरण किया। नायक तेजसिंह 14 जनवरी 1994 को आतंकवादियों से लोहा लेते हुए शहादत को प्राप्त हो गए थे।
शहीद सिपाही बलराम सिंह 26 अक्तुबर 1987 को श्रीलंका में चलाए गए आॅपे्रशन पवन में शहीद हो गए थे। गांव के इन दोनों शहीदों की प्रतिमाओं पर पुष्पचक्र चढाकर कंेद्रीय मंत्री ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस कार्यक्रम के लिए ग्रेनेडियर बटालियन जालंधर से सेना का बैंड गांव में आया था। इस सेना के बैंड की अगुवाई में केंद्रीय मंत्री को शहीद स्मारक तक ले जाया गया। स्मारक का अनावरण करने के बाद बैंड ने राष्ट्रीय गान की धुन बजाई जिस पर सभी लोग अपने-अपने स्थान पर सावधान की मुद्रा में खडे़ हो गए।

ग्रामीणों की मांग पर कंेद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने गांव जोड़ी सांपका में व्यायामशाला बनाने के लिए 20 लाख रूपए देने की घोषणा की। इसके अलावा, उन्होंने शहीदों के नाम पर गांव के बाहर बड़ा गेट बनवाने की जिम्मेदारी पटौदी की विधायक बिमला चैधरी को सौंपी। उन्होंने यह भी बताया कि पटौदी का बाईपास बनाने की प्रक्रिया भी जल्द शुरू होगी, इसके लिए जमीन का अधीग्रहण शुरू किया जाएगा। उन्होंने गांव में रेलवे स्टेशन तक जाने वाले रास्ते के बचे हुए हिस्से को पक्का करवाने का भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि गांव के शहीदों पर पूरे क्षेत्र को फक्र है। उन्होंने कहा कि भारतीय सेनाओं में सबसे ज्यादा सैनिक हरियाणा भेजता है और उनमें भी ज्यादा संख्या दक्षिण हरियाणा के गुरूग्राम, रेवाड़ी, महेंद्रगढ़, झज्जर तथा भिवानी जिलों से होती है। उन्होंने कहा कि चीन और पाकिस्तान की सीमाओं पर नियंत्रण की स्थिति हमारे सैनिकों की वजह से है, जो दिन-रात वहां पहरा देते हैं।

उन्होंने कहा कि ग्रामीणों ने आज उनके सिर पर पगड़ी बांधकर सम्मान दिया है। इससे भी ज्यादा सम्मान लोगांे ने पिछले चुनाव में उन्हें विजयी बनाकर दिया था। राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि इस क्षेत्र का प्रतिनिधि होने के नाते उनसे जो संभव हुआ वे विकास के कार्य उन्होंने करवाए। राव इंद्रजीत सिंह ने गांव नखड़ौला में आजाद हिंद फौज के स्वतंत्रता सेनानियों के स्मारक का अनावरण भी किया। इस गांव के 10 स्वतंत्रता सेनानी  आजाद हिंद फौज में थे तथा दो शहीद भी हैं। स्वतंत्रता सेनानियों में कैप्टन भागमल यादव, सिपाही भागमल यादव, सिपाही दयाराम यादव, सिपाही गोरधन यादव, सिपाही जयदयाल यादव, सिपाही खुबीराम यादव, सिपाही रामचंद्र यादव, सिपाही राम प्रसाद यादव, सिपाही रामशरण यादव तथा सिपाही ताराचंद यादव शामिल थे। इन सभी स्वतंत्रता सेनानियों का स्वर्गवास भी हो चुका है। इसी गांव के शहीद वीरदेव यादव ने 29 अगस्त 1992 को तथा शहीद नायक हुकमचंद ने 21 नवंबर 1962 को शहादत दी थी। केंद्रीय मंत्री ने इन सभी शहीदों की प्रतिमाओं पर पुष्प चढाकर इन्हें नमन किया। उन्होंने ग्रामीणों द्वारा रखी गई मांगों को पूरा करवाने का भी आश्वासन दिया।

इससे पहले केंद्रीय मंत्री जिला के गांव कुकड़ौला में भी गए जहां पर उन्होंने हाल ही में स्वर्ग सीधारे स्वतंत्रता सेनानी भागमल यादव के चित्र पर फूल चढाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। 101 वर्षीय स्वतंत्रता सेनानी भागमल यादव का 1 फरवरी को निधन हो गया था। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री के साथ भाजपा की राष्ट्रीय सचिव सुधा यादव, पटौदी की विधायक बिमला चैधरी, जिला परिषद के उपाध्यक्ष संजीव यादव, पूर्व मेयर विमल यादव, धर्मवीर हुड्डा, रेलवे बोर्ड के सदस्य एस एस त्रेहन, जिला पार्षद विरेंद्र यादव, भूपेंद्र पारासोली भी उपस्थित थे।

 

delhincrnews.in reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here