गुरुग्राम के लेजर वैली पार्क में चल रहे हिंदू आध्यात्मिक एवं सेवा मेले के तीसरे दिन रविवार को सुबह एक हजार लोगों ने  प्रकृति वंदन किया | स्कूली बच्चे,  उनके अभिभावक और मेले में आने वाले सभी लोगों ने पेड़ पौधों को तिलक लगा कर  मंत्रोच्चारण के साथ पूजा की।  इस कार्यक्रम में मुख्यवक्ता  के रूप में मौजूद  द अर्थ सेवियर फाउंडेशन के संस्थापक एवं केबीसी फेम प्रसिद्ध समाज सेवी रवि कालरा ने बच्चों को प्रकृतिक को बचाने की शपथ दिलाई |
रवि कालरा ने कहा कि  हिंदू आज इंसान अपनी जरूरतों की पूर्ती के लिए प्रकृतिक को नुक्सान पंहुचा रहा है।  इस तरह चलता रहा तो वह दिन दूर नहीं जब इंसान हवा , पानी को तरसेगा।  अगर हमे खुद को बचाना है तो पेड़ पौधों के साथ साथ प्रकृतिक से मिल रहे  साधनों को सही ढंग और मात्रा में ही प्रयोग करना होगा। आज जरुरत है कि हर आदमी आगे आये और प्रकृतिक को  बचाने के लिए काम करें। उन्होंने कहा कि हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा फाउंडेशन ने हिन्दू आध्यात्मिक एवं सेवा मेला शुरू करके लोगों में अपने संस्कारों को स्थापित करने का काम किया है , साथ ही प्रकृतिक के प्रति सबके दिलों में सम्मान भी जगाया है। कालरा ने लोगों को चेताया कि अगर हम जल्दी ही नहीं सम्भले तो प्रकृतिक को हो रहे नुक्सान से हमारी आने वाली पीढ़ियों को नुक्सान उठाना पड़ेगा।  सेवा कार्यों पर बोलते हुए रवि कालरा ने कहा कि असहाय लोगों की सहयता करना ही सच्ची सेवा है , इसलिए बच्चों में सेवा के संस्कार भरना चाहिए।
मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद आरएसएस के प्रान्त संघ चालक पवन जिंदल ने कहा कि लगातार लोगों में प्राकृतिक के प्रति जागरूकता बढ़ रही है।  सामाजिक संस्थान इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहें हैं ,  ऐसे संस्थानों व् संगठनों को प्रोत्साहित करने का काम यह मेला कर रहा है।  इस मौके पर विशिष्ठ अतिथि मारुति  सुजुकी इंडिया के  राहुल भारती और इन्डोटेक इंडिया के सजन  सिंह रहे।  इस प्रकृति वंदन के लिए 1100 पौधे सरोज सैनी उपलब्ध कराये।  कार्यक्रम में सुनील आचार्य , मंजू शर्मा , कर्नल जेके सिंह, वीणा गोराई , निर्मल यादव ,  सोमनाथ शर्मा , , सुनीता राणा , रामावतार गर्ग आदि सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित रहे।
मंत्रोचारण के साथ  2100 बच्चों ने एक साथ किया माता-पिता का वंदन 
रविवार को दोपहर में मातृपितृ वंदन कार्यक्रम रखा गया , जिसमे 2100 स्कूली बच्चों सहित  सैंकड़ों लोगों ने अपने माता पिता के चरणों को पूजा और अपने संस्कारों को जिन्दा रखने का सन्देश सर्व समाज को दिया।  मातृपितृ वंदन में सभी ने नारियल और एक पटका सम्मान स्वरूप अपने माता के चरणों में चढ़ाया।
कार्यक्रम में मिण्डा ग्रुप के चेयरमैन निर्मल मिण्डा मुख्यतथि रहे।  उन्होंने कहा कि ये हमारे संस्कार हैं कि हम अपने माता पिता को भगवान् से भी ऊँचा मानते हैं। माता पिता की सेवा करने वालों पर ही भगवान् का आशीर्वाद रहता है।  उन्होंने यह भी कहा कि पिछले कुछ सालों में भारत में भी पाश्चात्य संस्कृति का असर देखने को मिला है , जिसके चलते यहाँ वृदाश्रम का चलन हुआ , लेकिन हमे अपनी संस्कृति को बचाना है तो माता पिता के प्रति प्रेम और आदर की भावना के साथ साथ सेवा भाव को प्रबल करना होगा।  कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि डालमिया ग्रुप के विनायक डालमिया रहे , जिन्होंने उपस्थित लोगों से अपील की कि माता पिता की सेवा करें ताकि आने वाली पीढ़ी भी अपने संस्कारों के प्रति सचेत रह सकें।  टीसीआई ग्रुप के चेयरमैन डीपी अग्रवाल सहित सैंकड़ों लोग उपस्थित रहे।

सोमवार को परमवीर वंदन में होगा सैंकड़ों सैनिकों का सम्मान 
सीमा पर देश की रक्षा करने वाले सैनिकों को सम्मानित करने के लिए सोमवार को परमवीर वंदन कार्यक्रम होगा।  इस कार्यक्रम में एक साथ 500 से अधिक उन सैनिकों का सम्मान किया जायेगा , जो देश की सेवा में लगे हुए हैं। मेजर जरनल जी डी बक्शी मुख्यातिथि के रूप में मौजूद होंगे।
हरियाणा कला परिषद् के कलाकारों की  ढोल थाप पर बच्चे खूब नाचे, उन्होंने समां बाँध दियाI सेल्फी पॉइंट: मेले में लगा कृत्रिम पेड़ ने लोगो के आकर्षण का केंद्र रहा | लोगो ने वहां जम कर  खूब सेल्फी लीI सहज योग और हार्ट फुल नेस संस्था ने जहाँ लोगो को ध्यान कराया वही राम कृष्णा मिशन, गायत्री परिवार ने प्रकृति, आयुर्वेद, यज्ञ के बारे में लोगो को जानकारी दीI शाम के समय इस्कोन ने आरती की और प्रसाद वितरण कियाI
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here