विश्व वेटलैंड दिवस के अवसर पर जिला के सुल्तानपुर गांव स्थित राष्ट्रीय पक्षी विहार में राज्य स्तरीय समारोह का
आयोजन किया गया जिसमें हरियाणा के लोक निर्माण, वन एवं वन्य प्राणी विभागों के मंत्री राव नरबीर सिंह मुख्य अतिथि थे। राव नरबीर सिंह ने सुल्तानपुर राष्ट्रीय पक्षी विहार में  दो बर्ड हाईड की आधारशिला रखी, जिन पर प्रत्येक पर  पांच लाख रुपए की राशि खर्च होगी और ये बर्ड हाइड राष्ट्रीय पक्षी विहार को देखने आने वाले पर्यटको को
फोटोग्राफी में सहायक होंगे और फोटोग्राफी करते समय पक्षी भी डिस्टर्ब नहीं होंगे। उन्होंने समारोह में पक्षियों और वन्य प्राणियों पर आधारित तैयार पेंटिंग तथा फोटोग्राफी की लगाई गई प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया।

उन्होंने ‘वन्य प्राणियों के साथ जीना होगा’ विषय पर आयोजित नुक्कड़ नाटक को देखा  और इसके माध्यम से दिए गए संदेश की प्रशंसा करते हुए मंडली को रवाना भी किया, जो 3 मार्च विश्व वन्य प्राणी दिवस तक प्रदेश के विभिन्न जिलों में भ्रमण कर लोगों को वन्यजीवों के संरक्षण के बारे में जागरूक करेगी। अपने संबोधन में राव नरबीर सिंह ने कहा कि पर्यावरण में संतुलन ठीक रखने के लिए वेटलैंड का रखरखाव तथा जल संरक्षण जरूरी है ।  उन्होंने तालाबों और जोहड़ो का जीर्णोद्धार करके उनमें पानी भरवाने पर जोर दिया और कहा कि हमें वेटलैंड के रखरखाव पर ध्यान देना होगा क्योंकि नेचुरल बायो डाइवर्सिटी के अस्तित्व के लिए वेटलैंड बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि 2 फरवरी 1971 को इरान के शहर रामसर में पहली बार वेटलैंड दिवस मनाया गया था।

उन्होंने बताया कि इस वर्ष के विश्व वेटलैंड दिवस का थीम- ‘वेटलैंड एवं जलवायु परिवर्तन’ है।  उन्होंने कहा कि पर्यावरण में कारबन कंटेंट को वेटलैंड अब्सॉर्ब करती है, इसलिए यह जलवायु परिवर्तन को काफी हद तक रोकने में सहायक है।राव नरबीर सिंह ने आम जनता से पानी की बचत करने की भी अपील की और कहा कि हरियाणा में भूमिगत जल स्रोत को रिचार्ज करने के लिए कोई नदी नहीं बहती इसलिए जमीन के पानी को रिचार्ज करने के लिए भी हमें स्वयं ही प्रयत्न करने होंगे तभी भावी पीढ़ियों को पानी मिल पाएगा।

समारोह में राव नरबीर सिंह ने पेंटिंग प्रतियोगिता के विजेता विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया। इनमें राजकीय उच्च विद्यालय चंदू की दसवीं की छात्रा विनीता को प्रथम तथा वर्षा को द्वितीय पुरस्कार मिला और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कादीपुर की 9वी  की छात्रा अनीशा शर्मा तृतीय स्थान पर रही। पक्षियों की विभिन्न प्रजातियों तथा वन्य जीवो की सजीव फोटोग्राफी करने वालों को भी  समारोह में  मंत्री द्वारा  सम्मानित किया गया।

इससे पहले समारोह को प्रधान मुख्य वन संरक्षक डॉ अनिल हुड्डा ने संबोधित करते हुए कहा कि 1987 से विश्व वेटलैंड दिवस मनाना शुरू किया गया। उन्होंने जल संरक्षण तथा जनसंख्या नियंत्रण और अपनी जरूरतों को कम करने पर बल दिया। प्रधान मुख्य वन्य प्राणी संरक्षक वी एस तंवर ने भी आज के दिवस के महत्व पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर अतिरिक्त प्रधान मुख्य वन संरक्षक विनोद कुमार, मंडल वन्य प्राणी अधिकारी श्यामसुंदर कौशिक, मंडल वन अधिकारी दीपक नंदा, वन संरक्षक वासवी त्यागी सहित प्रदेश के अन्य जिलों के मंडल वन अधिकारी भी उपस्थित थे ।

 

Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here