गुरूग्राम पुलिस के बेड़े में 25 नई पीसीआर शामिल हो गई हैं जिन्हें आज हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री, राव नरबीर सिंह ने पुलिस आयुक्त कार्यालय से झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर मीडिया प्रतिनिधियों से बातचीत करते हुए राव नरबीर सिंह ने कहा कि नगर निगम गुरूग्राम द्वारा दो बार 25-25 नई मारूति अरटिका गाड़ियां गुरूग्राम पुलिस को पीसीआर के लिए दी गई हैं जिससे गुरूग्राम पुलिस को शहर में कानून व्यवस्था बनाए रखने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि गुरूग्राम शहर के समुचित विकास का दायित्व गुरूग्राम नगर निगम पर है और इस दायित्व में कानून व्यवस्था के लिए प्रबंधों में सहयोग करना भी शामिल है। उन्होंने कहा कि नई पीसीआर गाड़ियां मिलने से गुरूग्राम पुलिस की सक्रियता बढेगी और शहर में पुलिस की उपस्थिति नजर आएगी।
नगर निगम आयुक्त यशपाल यादव ने भी इस मौके पर मीडिया प्रतिनिधियों केे सवालों का जवाब देते हुए बताया कि नगर निगम गुरूग्राम द्वारा सदन की बैठक में गुरूग्राम पुलिस को 50 पीसीआर वाहन देने का प्रस्ताव पारित किया गया था। इसके बाद नगर निगम 25 पीसीआर पहले तथा आज की 25 पीसीआर गाड़ियों सहित कुल 50 पीसीआर वाहन गुरूग्राम पुलिस को दे चुका है। उन्होंने कहा कि नगर निगम अधिनियम में यह प्रावधान है कि शहर के विकास में किसी भी क्षेत्र में कमी को पूरा करने के लिए नगर निगम सहयोग दे सकता है। उसी प्रावधान के अंतर्गत गुरूग्राम पुलिस को ये वाहन दिए गए हैं। राष्ट्रीय ग्रीन ट्रायब्युनल, उच्च न्यायालय आदि के भी नगर निगम क्षेत्र में अतिक्रमण हटाने व पर्यावरण प्रदूषण करने वालों पर कार्यवाही करने के फैसले आए हुए हैं, जिनको अमलीजामा पहनाने के लिए  नगर निगम के दस्ते को समय-समय पर पुलिस मदद की जरूरत पड़ती है। उन्होंने कहा कि इन वाहनों के मदद से गुरूग्राम पुलिस नगर निगम के दस्ते को अतिक्रमण हटाने की मुहिम में ज्यादा सहयोग दे सकेगी। शहर में कानून व्यवस्था ठीक होगी तो विकास भी योजनाबद्ध तरीके से हो पाएगा। यादव ने कहा कि एक प्रकार से पीसीआर गाड़ियां पुलिस को देकर नगर निगम ने स्वयं अपनी मदद की है।
इस अवसर पर पुलिस आयुक्त के के राव, नगर निगम पार्षद कुलदीप यादव, ब्रहम यादव, राकेश यादव सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
delhincrnews.in reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here