हरियाणा प्रदेश में आज सुशासन दिवस से सभी 37 सरकारी विभागों की 485 सेवाएं और योजनाएं एक ही स्थान पर मिलनी शुरू हो गई है। इसके लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज करनाल से प्रदेश के 22 जिलो  के 115 सरल केंद्रों का वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से मेगा लॉन्च किया, जिनमें गुरुग्राम जिला के भी 6 सरल केंद्र शामिल हैं। इसके अलावा, आज से गांव में स्थित अटल सेवा केंद्रों (कॉमन सर्विस सेंटर) में भी लोगों को सरकारी योजनाओं और सेवाओं का लाभ मिलेगा। इन सेवाओं का लाभ उठाने के लिए हेल्पलाइन नंबर 1800-2000-023 पर भी कॉल से संपर्क किया जा सकता है।
इस अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री प्रोफेसर रामबिलास शर्मा ने कहा कि आज बीएचयू के संस्थापक पंडित मदन मोहन मालवीय तथा पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी का जन्मदिन है जिसे हम सुशासन दिवस के रूप में मनाते हैं। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ बिताए क्षणों को सभी के साथ सांझा किया और बताया कि वाजपेयी का व्यक्तित्व इतना महान था कि 1971 के भारत-पाक युद्ध के दौरान विपक्ष के नेता रहते हुए उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को अपने पूरे समर्थन का भरोसा दिलाया था।
आज शुरू की गई सुविधा का उल्लेख करते हुए प्रोफेसर रामबिलास शर्मा ने कहा कि अंत्योदय सरल केंद्र पर 37 सरकारी विभागों की 400 से अधिक सेवाओं और योजनाओं का लाभ एक ही छत के नीचे मिलेगा और लोगों को इन सेवाओं के लिए अलग-अलग विभागों में जाने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि सरल पोर्टल पर भी इन सेवाओं और योजनाओं के लिए घर बैठे आवेदन किया जा सकता है। ऑनलाइन आवेदन के लिए व्यक्ति को केवल  saralharyana.gov.in पर जाना होगा। यह एक ऐसी सुविधा शुरू की गई है जिससे योजनाओं और सेवाएं आपसे केवल एक क्लिक दूर है। कंप्यूटर पर क्लिक करें और किसी भी सरकारी विभाग से संबंधित सेवा अथवा योजना के लिए अप्लाई करें।
प्रोफेसर शर्मा ने कहा कि सुविधा के शुरू होने से सरकारी विभागों की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता आएगी और काफी हद तक भ्रष्टाचार में कमी लाने में मदद मिलेगी। इससे बिचौलियों की भूमिका लगभग समाप्त हो जाएगी। उन्होंने कहा कि यह अंतोदय सरल प्रोजेक्ट हरियाणा का ही नहीं अपितु देश भर का अब तक का सबसे बड़ा प्रोजेक्ट है। आईटी के प्रयोग से देश के किसी किसी प्रांत में 25 से 50 सेवाएं दी जा रही हैं लेकिन हरियाणा ने 400 से अधिक सेवाएं तथा योजनाएं ऑनलाइन आम जनता को उपलब्ध करवा कर एक नई पहल की है। अब लोगों को सरकारी विभागों के माध्यम से दी जाने वाली सेवाओं तथा योजनाओं का लाभ लेने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटने की जरूरत नहीं है। कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री ने सर्विस डिलीवरी में बेहतरीन कार्य करने वाले जिला के दो अटल सेवा केंद्रों के संचालक गांव बलेवा के अमित यादव तथा गांव बास्कुशला के तोष कुमार को प्रश्न पत्र देकर सम्मानित किया।
कार्यक्रम में बताया गया कि सरकारी विभागों से संबंधित सेवाओ का लाभ लेने के लिए कोई भी व्यक्ति गुरुग्राम के लघु सचिवालय के ग्राउंड फ्लोर पर स्थित सरल केंद्र में आए और विभाग में ना जाए। इसी प्रकार सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए लघु सचिवालय के पास बनाए गए अंतोदय भवन में जाए। सोहना और पटौदी उपमंडलो तथा फरुखनगर  व मानेसर  तहसील कार्यालयों मे भी अंत्योदय सरल केंद्र खोले गए हैं। इसके अलावा गांव के स्तर पर 200 से अधिक अटल सेवा केंद्रों में सभी सरकारी योजनाओं का लाभ मिलेगा। इन केंद्रों पर आने वाले व्यक्ति को कार्य दिवसों के दिन प्रात 9:00 से सांय 3:00 बजे तक टोकन दिए जाएंगे और टोकन नंबर के अनुसार ही काउंटर पर बुलाया जाएगा।
सरल हरियाणा पोर्टल पर सभी विभागों से संबंधित स्कीमों तथा सर्विसेज की लिस्ट दी गई है । साथ में परफारमेंस डैशबोर्ड भी प्रदर्शित किया गया है जिसमें जनता का कोई भी व्यक्ति यह देख सकता है कि सरल पोर्टल के माध्यम से सेवाओं और योजनाओं का लाभ देने में कौन सा विभाग प्रदेश में कौन से पायदान पर है। इसी प्रकार, कोई भी व्यक्ति सर्विस डिलीवरी में अपने जिले का स्थान देख सकता है। पोर्टल पर दी गई जानकारी के अनुसार अब तक इस पोर्टल पर 87,18,248 आवेदन प्राप्त हुए हैं जिनमें से 83,88,909 आवेदनों को प्रोसेस किया गया और इनमें से भी 68,64,756 आवेदनों को राइट टू सर्विस एक्ट में दी गई समय सीमा के भीतर ही प्रोसेस किया गया है। अब सभी सरकारी विभागों और जिलों की परफॉर्मेंस जनता खुद देख सकती है। हरियाणा में सर्विस डिलीवरी में यह एक बहुत बड़ा बदलाव है।
इस मौके पर धन्यवाद ज्ञापित करते हुए गुरुग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने अंतोदय सरल मिशन की शुरुआत को सफल बनाने के लिए तीन मुख्य बिंदुओं पर ध्यान देने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने कहा कि सभी जनप्रतिनिधि, अधिकारीगण और सभी जागरूक लोग इस सरल पोर्टल के बारे में ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार करें ताकि इसका लाभ ज्यादा से ज्यादा लोग उठा पाए। इसके साथ उन्होंने सभी सरकारी विभागों के सरल पोर्टल के लिए बनाये गए नोडल अधिकारियों से कहा कि वे अपने विभाग से संबंधित सेवाओं और योजनाओं का लाभ विभाग के कार्यालय में ना देकर, लोगों को सरल केंद्र पर ही दें। उन्होंने यह भी कहा कि अधिकारीगण राइट टू सर्विस एक्ट में दी गई समय सीमा में ही सेवाएं देने का प्रयास करें, तभी हमारे जिला का सरल स्कोर अच्छा होगा।
इस अवसर पर गुरुग्राम नगर निगम के आयुक्त यशपाल यादव, नगराधीश मनीषा शर्मा, गुरुग्राम उत्तरी के एसडीएम संजीव सिंगला, माता शीतला देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वत्सल वशिष्ठ, मुख्यमंत्री के सुशासन सहयोगी वैभव लिमये सहित जिला के सभी अधिकारी गण उपस्थित थे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here