रूडसेट संस्थान गुरूग्राम में 13 दिवसीय जूट उत्पाद निर्माण उद्यमी प्रशिक्षण कार्यक्रम का समापन किया गया। इस अवसर पर क्रिएटिव प्रोफेसर ज्योत्सना आनन्द ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की और प्रशिक्षार्थियों को अपनी शुभकामनाएं दी।
इस अवसर पर क्रिएटिव प्रोफेसर ज्योत्सना आनंद ने कहा कि आज बाजार में जूट से बने उत्पादों की भारी डिमांड है। उन्होंनें प्रशिक्षार्णियों से कहा कि वे यहां मिले प्रशिक्षण का भविष्य में भी लाभ उठाएं और स्वः रोजगार स्थापित करके देश को पाॅलिथीन मुक्त बनाने में अपना सहयोग दें। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में गुरूग्राम नगर निगम द्वारा विशेष रूप से सहयोग दिया गया। आज के समय में अगर पाॅलीथीन समाप्त करनी है तो उसका रिपलेस्मेन्ट देना जरूरी है तो जूट थैला/कपड़े का थैेले उस  कमी को पूरा कर सकते हैं। जूट उत्पाद का माँग काफी बढ़ गया है इसलिए इस क्षेत्र में विकास के अवसर असीमित है। उन्होनें सुझाव दिया कि आप इस प्रशिक्षण को अपने व्यवसाय के रूप में अपनाये ताकि आप अपने अलावा औरों को भी रोजगार मुहैया करा सकें। उन्होंने रूडसेट संस्थान के क्रियाकलापों की सराहना करते हुए कहा कि रूडसेट संस्थान महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में अहम भूमिका निभा रहा है जो समाज तथा देश के उत्थान के लिए सराहनीय कदम है। अपने संबोधन के अन्त में उन्होनें प्रशिक्षणार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना की ।
संस्थान आगमन पर संस्थान के निदेशक ओम प्रकाश गुप्ता ने अतिथियों  का स्वागत किया और संस्थान की गतिविधियों से अवगत कराया ।
ओम प्रकाश गुप्ता ने बताया कि संस्थान समय की माँग के अनुसार प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करता आ रहा है। इसी क्रम में जिला प्रशासन के सहयोग से देश की पाॅलीथीन जैसी ज्वलन्त समस्या के निदान हेतु इस प्रशिक्षण का आयोेजन किया है। गुप्ता ने बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में जूट उत्पाद निर्माण के अलावा दिशा बद्धता, लेखा जोखा, गुणवत्ता, ग्राहक प्रबन्धन, विपणन आदि विषयों पर भी सत्र लिया गया ।
समापन कार्यक्रम में सुधा सोसायटी के अध्यक्ष गोपाल कृष्ण भटनागर तथा डी पी महेश्वरी ने भी प्रशिक्षणार्थियों से अपने-अपने अनुभव सांझा किए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है कि देश में सभी के पास रोजगार हो ताकि भारत मजबूत तथा स्मृद्ध होगा। कार्यक्रम में महेन्द्र सिंह ने प्रशिक्षणार्थियों का पर्यावरण संरक्षण के लिए आह्वान किया।
कार्यक्रम के अन्त में संस्थान के वरिष्ठ संकाय सदस्य राजेश्वर प्रसाद ने अतिथियों का धन्यवाद पारित किया तथा बताया कि संस्थान द्वारा आगामी प्रशिक्षण कार्यक्रम हाउस वायरिंग तथा रेफ्रिजरेशन तथा एयर कण्डीशनिंग का चलाया जाएगा । इच्छुक अभ्यर्थी संस्थान में आकर अपना नामांकन करा सकते हैं।
delhincrnews.in reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here