जिला रैडक्रास सोसायटी और नेबट संस्थान मानेसर अब सयुक्त रूप से दिव्यांगजनों के साथ-साथ अन्य सामाजिक सेवाओ को भी आमजन तक पहुॅचाएगा। जिसके लिए नेबट के अधिकारी उषा मिश्रा एंव रैडक्रास सचिव श्याम सुन्दर के बीच एम0 ओ0 यू0 पर सयुक्त रूप से हस्ताक्षर किए गए है। ये जानकारी देते हुए जिला उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने बताया कि जिले में रैडक्रास सोसायटी की गतिविधियॉ आमजन तक पहुॅच सके और अधिक से अधिक प्रोजेक्ट जरूरत मन्द लोगो के लिए शुरू किए जा सके इसके लिए रैडक्रास सोसायटी में नेबट ने हाथ मिलाया है जो जिले के उन लोगो के लिए लाभकारी होगा जो लोग विभिन्न प्रकार की ट्रैनिंग करना चाहते है। स्किल डेवेलेपमेन्ट में कामयाब होना चाहते है। इसके साथ-साथ ग्रामीण स्तर पर दिव्यांग लोगो सहित अन्य लोगो को भी किस प्रकार से मदद की जा सकती है इसके लिए एक ही मंच पर दोनो संस्थान सयुक्त रूप से काम करेंगें। उन्होने बताया कि रैडक्रास सोसायटी यो तो रक्तदान, प्राथमिक चिकित्सा एंव होम नर्सिंग प्रशिक्षण, वद्वो की सेवा, दिव्यांगजन के लिए कार्यक्रम सहित और गतिविधियॉ चला रहे है। अब नेबट संस्थान के आ जाने से और अधिक प्रोजेक्ट राज्य सरकार, भारत सरकार एंव सी0 एस0 आर0 के माध्यम से आमजन तक पहुॅचाए जाएगें जिससे कि उसका लाभ आमजन को मिल सके। इस अवसर पर जिला उपायुक्त ने कहा कि सामाजिक संगठन यदि रैडक्रास सोसायटी के साथ मिलकर काम करें तो और अधिक लोगो तक सेवा प्रोजेक्ट  पहुॅचाए जा सकतेे है। कार्यक्रम में नेबट संस्थान से उषा मिश्रा, श्री धर मिश्रा, अभिषेक, रैडक्रास सोसायटी के सचिव श्याम सुन्दर व सहायक सचिव सुभाष शर्मा सहित अन्य जिलो से आए दिव्यांगजन भी उपस्थित थे। उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने नेबट संस्थान द्वारा चलाए जा रहे प्रोजेक्ट को देखा और करने वाले दिव्यांगजन से विभिन्न प्रकार की जानकारी प्राप्त की।
delhincrnews.in reporter 
Attachments area

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here