जरूरतमंद लोगों के भविष्य निर्माण व उन्हे रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध गुडग़ांव के रूडसैट संस्थान को जल्द ही पहले की अपेक्षा हाईटैक व एडवांस बनाया जा रहा है। इस संस्थान की नवनिर्मित इमारत के निर्माण का कार्य लगभग पूरा हो चुका है जिसके निर्माण पर लगभग पौने 3 करोड़ रूपये की राशि खर्च की गई है।
यह जानकारी रूडसैट संस्थान की 113वीं जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक में दी गई। बैठक की अध्यक्षता अतिरिक्त उपायुक्त मुनीष शर्मा ने की। बैठक में एजेंडानुसार विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई। बैठक में बेरोजगार युवाओं में कौशल विकास को लेकर संस्थान द्वारा करवाई गई गतिविधियों पर विस्तार से चर्चा की गई। उन्होंने बताया कि नवादा-फतेहपुर में रूडसेट संस्थान के शुरू होने के बाद यहां कौशल विकास के लिए आने वाले युवाओं को पहले की अपेक्षा बेहतर सुविधाएं मिलेंगी।
बैठक में अतिरिक्त उपायुक्त मुनीष शर्मा ने कहा कि रूडसैट संस्थान में समय की मांग के अनुसार कोर्सिज करवाए जाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि वे मार्किट की डिमांड के अनुसार कोर्सिज करवाने पर युवाओं के लिए रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध होंगे। बैठक में बताया गया कि अब तक जिला के रूडसैट संस्थान से प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले 50 प्रशिक्षार्णियों को बैंक के माध्यम से ऋण भी उपलब्ध करवाया गया है ताकि वे स्वःरोजगार के लिए प्रेरित हो सके।
बैठक में रूडसैट संस्थान के निदेशक ओ पी गुप्ता ने बताया कि वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान रूडसैट संस्थान द्वारा 26 ट्रेनिंग कार्यक्रम करवाए जाने का लक्ष्य है जिसमें से अब तक 12 ट्रेनिंग कार्यक्रम संस्थान द्वारा आयोजित करवाए जा चुके है। इसके अलावा, अब तक संस्थान द्वारा 265 लोगों को स्वरोजगार के लिए प्रशिक्षण दिया जा चुका हैं जिसमें से 124 प्रशिक्षणार्थियों को रोजगार प्राप्त हो चुका है। उन्होंने बताया कि संस्थान द्वारा 60 कौशल विकास के कोर्सिज को सूचीबद्ध किया गया है जिन्हें अलग-अलग बैच में करवाया जाता है।
उन्होंने कहा कि रूडसैट संस्थान द्वारा लोगों को शार्ट टर्म कोर्सिज़ निःशुल्क करवाए जाते है ताकि वे भविष्य में अपने रोज़गार के साधन जुटा सके। उन्होंने कहा कि रूडसैट संस्थान आज लोगों के बीच अपनी अलग छाप छोड़ चुका है। रूडसैट संस्थान से कोर्स करके लोग आज अपना व अपने परिवार का भली प्रकार से पोषण कर रहे है।
गौरतलब है कि रूडसैट संस्थान की स्थापना सन् 1984 में की गई थी। संस्थान द्वारा शॉर्ट टर्म कोर्सिज जैसे कम्प्यूटर बेसिक कोर्स, कम्प्यूटर टेली, ड्रैस डिजाइनिंग, इनवर्ट एंड यूपीएस मैनूफैक्चरिंग एंड सर्विसिंग, मल्टी फोन सर्विसिंग, टू व्हीलर सर्विसिंग, रैफ्रीजिरेटर, ए सी, एलसीडी, एलईडी रिपेयरिंग व ब्यूटी पार्लर मैनेजमेंट सहित 27 कोर्सिज करवाए जाते है।
इस अवसर पर सलाहकार समिति के सभी सदस्य क्रमशः डा. डी0 एस0 बेदी, उप महा प्रबन्धक, सिंडिकेटबैंक, क्षेत्रीय कार्यालय, फरीदाबाद, एस0 एन0 शर्मा, क्षेत्रीय प्रबन्धक, सर्व हरियाणा ग्रामीण बैंक, गुरूग्राम, मनोज गौड़, मण्डल प्रबन्धक, केनरा बैंक, क्षेत्रीय कार्यालय, गुरूग्राम, लाल चन्द, मण्डल प्रबन्धक, केनरा बैंक, आर0ए0एच0 पुराना रेलवे रोड, गुरूग्राम, आर0 सी0 नायक, अग्रणी जिला प्रबन्धक, गुरूग्राम, आर0 एस0 पाण्डेय, मुख्य प्रबन्धक,  केनरा बैंक, पुराना रेलवे रोड, गुरूग्राम, टी. सी. साँगवान, संयुक्त निदेशक, जिला उद्योग केन्द्र, गुरूग्राम, मनीता यादव, उप नियोजन कार्यालय, गुरूग्राम, दीप्ती चैधरी, प्रबन्धक, एच0एस0आर0एल0एम0, गुरूग्राम तथा रूडसेट संस्थान के निदेशक ओम प्रकाश गुप्ता मौजूद थे ।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here