संस्कृति के सारथी द्वारा आयोजित गुरु सम्मान समारोह का भव्य आयोजन सेक्टर 9 स्थित सीधेस्वर स्कूल में हुआ जिसमें गुरुग्राम जिले के लगभग 100 विद्यालयों के 200 शिक्षक एवं शिक्षिकाओं को को शिक्षा के क्षेत्र में उत्तम कार्य करने के लिये सम्मानित किया गया, इस मौके पर कार्यक्रम के मुख्यथिति गुरुग्राम विश्वविद्यालय के उपकुलपति डा० मार्कण्डेय आहूजा, बलिया के विधायक सुरेंद्र सिंह, अजय सिंहल, इत्यादि गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे, बलिया के विधायक सुरेंद्र सिंह ने शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षक होना अपने आप में एक वरदान है, क्योंकि इस दुनिया में जितने भी हुनरमंद व्यक्ति है उनको बनाने के पीछे एक शिक्षक का हाथ होता है, उन्होंने शिक्षिकाओं को संबोधित करते हुए कहा कि अगर एक महिला दूसरे महिला की इज्जत करने लगे तो हमारी महिलाओं को किसी और की सुरक्षा और इज्जत के लिये मुहताज नहीं होना पड़ेगा, सभा को डा अशोक दिवाकर और अजय सिंहल ने भी संबोधित किया सभी ने एक शसक्त और संस्कारवान भारत बनाने के लिए शिक्षक और शिक्षिकाओं को महत्वपूर्ण योगदान के लिए प्रेरित किया, इस आयोजन को सफल बनाने के लिए संस्कृति के सारथि की अध्यक्ष रामबहादुर सिंह, गौरव अरोड़ा,  दीपक वशिष्ठ, अरुण चतुर्वेदि, कृष्णा कुमार, मीनाक्षी ऋषि , पिंकी शर्मा, ब्रजेश सिसोदिया, सौरव चौहान, राकेश सिंह,अमृता अरोड़ा, पिछले 15 दिनों से तैयारी में जुटे थे,संस्था के अध्यक्ष रामबहादुर सिंह ने बताया कि हमारी संस्था हरेक महीने के चौथे शनिवार को अलग अलग विद्यालयों में सेमिनार करती है जिसमे शिक्षक शिक्षिकाओं को अपने विषय में बेहतर काम करने करने के लिए विशेषग्यो द्वारा समझाया जाता हैI

delhincrnews.in reporter

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here