कृषि विभाग के प्रधान सचिव डा. अभिलक्ष लिखी ने वीडियों काॅन्फे्रंसिंग के माध्यम से सभी जिला उपायुक्तों के साथ चण्डीगढ़ मुख्यालय से वीडियों काॅन्फें्रसिंग करते हुए कहा कि वे धान उत्पादक किसानों से फसलों के अवशेष नहीं जलाने को प्रेरित करें ताकि पर्यावरण प्रदूषण कम हो।
उन्होंने कहा कि धान की मशीन से कटाई के बाद खेत में डंठल खडे़ रह जाते हैं उन्हें जलाने की बजाय खेत में ही जोत दें। ऐसा करने से उनके खेत की उत्पादकता बढेगी। डा. लिखी ने कहा कि धान की पराली को खेत में जोत कर मिट्टी में मिलाने से उसकी अच्छी खाद लगती है। इस कार्य के लिए जिन कृषि उपकरणों की आवश्यकता होती है, वे सभी उपकरण सरकार द्वारा 50 से 80 प्रतिशत तक सबसिडी पर किसानो को उपलब्ध करवाए गए हैं।
डा. लिखी ने वीडियो काॅन्फें्रसिंग में उपस्थित कृषि विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन किसानों ने सबसिडी पर कृषि उपकरण खरीदे हैं उनकी सबसिडी उनके खाते में तत्काल जमा करवाएं और इस कार्य में किसी प्रकार की ढिलाई बरदाश्त नही होगी। गुरुग्राम की रिपोर्ट देते हुए अतिरिक्त उपायुक्त मुनेष शर्मा ने डा. लिखी को बताया कि यहां 19 किसानों को सबसिडी पर कृषि उपकरण  दिए गए हैं और 5 लाख 58 हजार रूप्ए की सबसिडी उनके खाते में जमा करवा दी गई है। यहां पर 10 रोटावेटर, 7 जीरो टिलेज मशीन, एक रिवसिबल एमबी प्लो सबसिडी पर किसानों को दिए गए हैं।
डा. लिखी ने बताया कि इस बार धान की पराली जलाने वालों पर सख्त कार्यवाही होगी। उन्होंने बताया कि केंद्र व राज्य सरकार द्वारा तहसील व ब्लाॅक लैवल पर चैकिंग के लिए मोबाईल स्कवैड बनाए गए हैं। ये टीमें आकस्मिक तौर पर चैकिंग करेंगी और जिन खेतों में आग लगी मिलेगी, उनके मालिको के खिलाफ कार्यवाही करेगी। उन्होंने यह भी बताया कि पिछले अनुभव के आधार पर जिन-जिन जिलों में जहां-जहां पर पराली जलाने की सूचना मिली थी उन जगहों की पहचान की जा चुकी है और चैकिंग टीमों का उन जगहो पर विशेष ध्यान रहेगा। डा. लिखी ने कहा कि जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी के माध्यम से भी सभी गांवों में यह मुनादी करवाई जाएगी कि कोई भी किसान अपने खेत में फसलों के बचे हुए अवशेष अथवा डंठल ना जलाएं।
इस वीडियो काॅन्फें्रसिंग में अतिरिक्त उपायुक्त मुनेष शर्मा के अलावा, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी नरंेंद्र सारवान, सूचना जन संपर्क विभाग के उपनिदेशक आर एस सांगवान, कृषि विभाग के एसडीओ अनिल कुमार तथा ब्लाॅक अग्रीक्लचर आॅफिसर बाबू लाल भी उपस्थित थे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here