पालिथिन के प्रयोग के विरोध में रविवार को सैकड़ों लोग पर्यावरण सैनिक बनकर सड़कों पर उतरेराजपुताना स्पोटर्स फाउंडेशन के बैनर तले गुरुग्राम रेलवे स्टेशन से इस अभियान की शुरुआत हुई। स्टेशन सुपरिडेंट एस एल मीणा और राजपुताना स्पोटर्स फाउंडेशन के अध्यक्ष नरेंद्र चौहान ने अभियान की शुरुआत की। महत्वपूर्ण बात यह है कि पालिथिन के प्रयोग के विरोध में आयोजित इस अभियान में सभी बच्चे स्केट्स पहनकर शामिल हुए और यह संदेश दिया कि सभी लोगों को प्लास्टिक के बने सामानों का बहिष्कार करना होगा तभी हम धरती को बचा सकते हैं। पर्यावरण सैनिक की टी शर्ट पहने सभी लोगों ने स्टेशन सुपरीडेंट की मौजूदगी में यहाँ के सभी दुकानदारों व यात्रियों से पालिथिन प्रयोग ना करने की अपील की।  हाथों में पालिथीन विरोधी नारे लिखी तख्तियां लेकर सभी ने प्लास्टिक के सामानों के बहिष्कार संबंधी नारे भी लगाए।
पर्यावरण संरक्षण के लिए उठाए गए इस कदम की सराहना करते हुए स्टेशन सुपरीडेंट मीणा ने कहा कि हम सबने मिलकर  पर्यावरण संरक्षण के लिए काम नहीं किया तो हमारी आने वाली पीढ़ी को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा । सही मायने में लोगों को जागरूक करने के साथ साथ सबकों खुद भी संकल्प लेना होगा कि प्लास्टिक का प्रयोग नहीं करेंगे । मीणा ने कहा कि सरकारें अपना काम कर रही है , लेकिन बदलाव सदा आम लोगों की जागरूकता से ही आता है।
इस अवसर पर राजपुताना स्पोटर्स फाउंडेशन के अध्यक्ष नरेंद्र चौहान व चेयरमैन विक्रम चौहान ने भी संकल्प लिया कि समय समय पर इस तरह के अभियान चलाए जाएंगे ।   नरेंद्र चौहान ने कहा कि जिला प्रशासन को पालिथीन बेचने वालों पर सख्ती से कारवाई करना चाहिए।
 इसके बाद स्टेशन से स्केटिंग करते हुए सभी बच्चे रेलवे रोड पर पहुँचे और सेक्टर पांच चौक तक रास्ते में मौजूद सभी दुकान के दुकानदारों को पालोथिन का प्रयोग ना करने के लिए जागरूक किया। दुकानदारों को प्लास्टिक के सामान से पर्यावरण को होने वाले नुकसान के बारे में बताया।
इस अभियान में प्रवीण तँवर, कबड्डी कोच रजनीश भारद्वाज, नरेश यादव, राजकुमार छौकर, सुल्तान सिंह, दलबीर सिंह चौहान, संतोष ठाकुर, राजेंद्र सिंह, अजय भाट्टी, नरेंद्र शेखावत, गगन दीप, बी पी सिंह, पीके शर्मा  व  रेलवे पुलिस के अधिकारी,  राजपूत समाज के गणमान्य लोगों सहित अनेक सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद रहे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here