गुरुग्राम में संत कबीर दास जी की 641वींं जयंती धूमधाम से मनाई गई जिसमे मुलाना की विधायक संतोष चौहान सारवान ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की। चौहान ने संत कबीर दास जी के चित्र पर पुष्प अर्पित किए व उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने इस अवसर पर दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम का विधिवत् शुभारंभ किया।
इस अवसर पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए संतोष सारवान ने संत कबीर दास के दोहे भी दोहराएं। उन्होंने कहा कि संत कबीर दास के दोहे समाज में सकारात्मकता लाते है और दिशा परिवर्तन का काम करते हैं । उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम का उद्द्ेश्य यही है कि हम संत कबीर दास की शिक्षाओं को अपने जीवन में धारण करें और उन्हें समाज के प्रत्येक व्यक्ति तक पहुचंाए। उन्होंने कहा कि सामाजिक ताना बाना मजबूत करने के लिए जरूरी है कि हम संत कबीर दास जी के विचारों को अपने जीवन में धारण करें और समाज में समरसता लाएं।
हमारा भारत वर्ष महापुरुषों का देश है जहां कई महान संतों व महापुरुषों ने जन्म लिया। उन्होंने कहा कि इसमें कोई दो राय नहीं है कि भारत में सबसे ज्यादा संतों का आदर व सम्मान किया जाता है और उन्हें समाज में सबसे ऊंचा स्थान दिया गया है जिसका कारण संतो व महापुरुषों द्वारा दी गई शिक्षा व प्रेरणा है। आज हमें भारत के उन्हीं संतो महापुरुषों की विचारधाराओं का सम्मान करते हुए उनकी शिक्षाओं को अपने जीवन में धारण करने की जरूरत है।
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार हमारे देश के महापुरुषों के संतों का आदर सम्मान करने मे विश्वास रखती है जिसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मौजूदा सरकार ने अपना कार्यभार संभालते ही सबसे पहले अपनी कलम से महापुरुषों की जयंती को सरकारी तौर पर मनाने का निर्णय लिया जबकि पिछली सरकारों ने इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया।  उन्होंने कहा कि अंबेडकर जयंती ,वाल्मीकि जयंती, संत रविदास या कबीर दास जयंती को हरियाणा सरकार ने मनाने का निर्णय लिया जो यह दर्शाता है कि हरियाणा सरकार समाज के प्रत्येक वर्ग के प्रति संवेदनशील है और उनके मन में सद्भावना का विचार है।
उन्होंने कहा कि समाज में समरसता लाने के लिए जरूरी है कि समाज में सभी लोग एक दूसरे का सहयोग करें और समाज के जिस कमजोर वर्ग को सहयोग की जरूरत है उनका सहयोग करे। उन्होंने कहा कि समाज में प्रत्येक व्यक्ति को जात-पात व धर्म की भावना से ऊपर उठते हुए नि:स्वार्थ भाव से काम करने की जरूरत है। उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों से सरकार द्वारा चलाए जा रहे ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान तथा ‘स्वच्छता अभियान’ में भी अपने सहयोग देने का आह्वान किया। कार्यक्रम में आए सभी लोगों को जिला प्रशासन की ओर से एक-एक पौधा भी उपहार स्वरूप भेंट किया गया।
कार्यक्रम में अतिरिक्त उपायुक्त आर के सिंह ने संत कबीर दास जी के जीवन पर प्रकाश डाला व उनकी शिक्षाओं व विचारों को अपने जीवन में धारण करने के लिए आमजन का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि आज इस जयंती को सरकारी तौर पर मनाने का निर्णय इसलिए लिया गया है ताकि हम संत कबीर दास जी की शिक्षाओं, संस्कृति व विचारों को अपने जीवन में अपना सके और हमारे समाज की नींव को और मजबूत कर सके।
सारवान ने कार्यक्रम में गत दिनों आयोजित संत कबीर दास जी के जीवन पर आधारित पेंटिंग प्रतियोगिता, प्रश्नोत्तरी तथा दोहा प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागियों को भी प्रशंसा पत्र देकर सम्मानित किया। पेंटिंग प्रतियोगिता में पहला स्थान कुमारी गीता, दूसरा स्थान साक्षी व तीसरा स्थान ममता ने प्राप्त किया ,जबकि प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में पहला स्थान खुशी, दूसरा स्थान निशा व तीसरा स्थान अंकिता ने प्राप्त किया। दोहा प्रतियोगिता में पहला स्थान अमन दूसरा स्थान शिफा तथा तीसरा स्थान लता ने प्राप्त किया।
कार्यक्रम में भाजपा प्रदेश सह प्रवक्ता सतप्रकाश जरावता, जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी नरेन्द्र सारवान, जिला कल्याण अधिकारी श्वेता शर्मा, शमशेर सिंह चौहान, अजीत व नारी पंचायत से राजबाला शर्मा सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here