अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर आज जिला स्तरीय कार्यक्रम गुरुग्राम के ताऊ देवीलाल खेल परिसर के चौधरी सुरेन्द्र सिंह मैमोरियल क्रिकेट ग्राऊंड में आयोजित किया गया जिसमें हरियाणा के शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा ने मुख्य अतिथि के तौर पर शिरकत की।

शिक्षा मंत्री ने कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्र”ावलित करके किया। उन्होंने कहा कि चतुर्थ अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस विश्वभर में मनाया जा रहा है और आज देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देहरादून की घाटियों में स्वयं योग कर देशवासियों को योग के लिए प्रेरित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि योग एक प्राचीन विधा है जो हमें जीवन जीने की कला सिखाती है। इतना ही नही, दुनिया में श्रेष्ठतम व प्राचीनतम सभ्यताओं में योग का विशेष महत्व है। उन्होंने कहा कि योग भारतवर्ष की जीवन पद्धति का तब से आधार है जब भारत विश्व गुरु था। उन्होंने कहा कि योग भारतीय संस्कृति का प्रतीक है जो लोगों को जोडऩे में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। हमने योग को दुनिया के कोने-कोने तक पहुंचाया जिसका परिणाम यह है कि आज हमारी योग विधा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है। उन्होंने कहा कि हमें अपने परिवार के सदस्यों खासकर ब‘चों को योग से जोडऩा चाहिए ताकि वे स्वस्थ रह सके। उन्होंने लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि वे योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं और अपने दिन की शुरुआत योग के साथ करें। उन्होंने योग को शरीर से आत्मा की अनुभूति कहकर संबोधित किया।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि यदि समाज में प्रत्येक व्यक्ति रोजाना एक घंटे योग क्रियाएं करे तो वह अपने जीवन में स्वास्थ्य की दृष्टि से सकारात्मक बदलाव ला सकता है। उन्होंने कहा कि गुरु द्रोण की पावन धरा पर इस प्रकार का आयोजन अपने आप में ही विशेष महत्व रखता है। उन्होंने योग को आत्मा से परमात्मा का मिलन बताते हुए इसके महत्व पर प्रकाश डाला। शिक्षा मंत्री ने इस अवसर पर प्रोटोकॉल योगासन करते हुए योगाभ्यास किया।

पतंजलि योग समिति से रमेश ठाकुर ने मंच से विभिन्न प्रकार की योग क्रियाएं करके दिखाई तथा योग क्रियाओं के महत्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने मकरासन, भुजंगासन, शलभासन, सेतु बंधासन, उत्तानपाद आसन, अर्ध हलासन, पवनमुक्तासन,  शवासन, कपालभाति, अनुलोम विलोम प्राणायाम, शीतली प्राणायाम, भ्रामरी प्राणायाम तथा ध्यान आदि क्रियाएं करवाई। इसके अलावा उन्होंने ताड़ासन, वृक्षासन, पादहस्तासन, अर्ध चक्रासन, त्रिकोणासन, दंडासन, भद्रासन, ब्रजासन, अर्ध उष्ट्रासन, उष्ट्रासन, शशांकासन तथा चक्रासन आदि आसन करवाएं। मंच पर रमेश ठाकुर के साथ पतंजलि युवा प्रभारी स’जन सिंह तथा बहन निर्मल तथा योग प्रशिक्षण भूदेव भी थे जिन्होंने संयुक्त रुप से योग क्रियाएं करके दिखाई।

कार्यक्रम में गुरुग्राम की मेयर, मधु आजाद, गुरुग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह, अतिरिक्त उपायुक्त आर के सिंह, गुरुग्राम के नवनियुक्त पुलिस आयुक्त के के राव, नगर निगम के आयुक्त यशपाल यादव, जिला शिक्षा अधिकारी प्रेमलता यादव, जिला खेल अधिकारी जे जी बनर्जी आदि सहित विभिन्न अधिकारियों ने योग क्रियाएं की। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर गुरुग्राम जिला के लगभग 2,000 से भी अधिक लोगों ने भागीदारी कर कार्यक्रम को सफल बनाया। इस अवसर पर नन्हें ब‘चों द्वारा एक्रोबैटिक्स योगा की भी प्रस्तुति दी गई।
कार्यक्रम में योग के महत्व से संबंधित सेमिनार भी आयोजित किया गया जिसमें डॉ परमेश्वर अरोड़ा ने वैदिक आहार के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम में आयुष विभाग, पतंजलि योग समिति, खेल विभाग के अलावा नेशनल इंटीग्रेटेड मेडिकल एसोसिएशन गुरुग्राम तथा नेहरू युवा केंद्र द्वारा भी विशेष रुप से सहयोग दिया गया था। इस अवसर पर श्री माता शीतला देवी पूजा स्थल बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वत्सल वशिष्ठ भी उपस्थित थे।

 

Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here