रेलवे की सामाजिक पहल के कार्यक्रम की नीति के तहत फर्रूखनगर रेलवे स्टेशन को रेलवे विकसीत करने जा रहा है। कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार कर रेलवे स्टेशन के निर्माण कार्यों को तेजी से पूरा कर रहा है वहीं सामाजिक पहल के तहत अन्य कार्यक्रमों की शुरूआत करने की योजना को अंतिम रूप दिया जा रहा है। रेलवे इन कार्यक्रमों में स्वास्थय कैंप के साथ खेल प्रतियोगिताएं आयोजित करने के साथ रेलवे से संबंधित समस्याओं को हल करने की भी पहल की जाएगी। केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत की पिछले दिनों हुई रेलवे मंत्री पीयूष गोयल से मुलाकात के बाद रेलवे इन कार्यक्रमों को अंतिम रूप दे रहा है।
फर्रूखनगर रेलवे स्टेशन का ब्रिटिश काल से ही महत्व रहा है। केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह के प्रयासों से फर्रूखनगर रेलवे को पिछले वर्षों में नई पहचान मिली है। गढ़ी हरसरू से फर्रूखनगर रेलवे लाइन के इलेक्ट्रिफिकेशन की मंजूरी मिल चुकी है। इस लाइन का वर्क अलाट करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। वहीं वर्ष 2015-16 के रेलवे बजट में फर्रूखनगर से चरखी -दादरी वाया झज्जर रेलवे लाइन के सर्वे की मंजूरी प्रदान की गई थी। इस 65 मिलोमीटर रेल लाइन के सर्वे के लिए भी पिछले दिनों राव ने केंद्रीय रेल मंत्री से मुलाकात कर सर्वे पूरा करवाने की मांग को दोहराया था।
रेलवे भी इस ऐतिहासिक रेलवे स्टेशन के महत्व को समझते हुए सामाजिक पहल के तहत कार्यक्रम तैयार कर लोगों की बीच पहुंचेगा। रेलवे के इन कार्यक्रमों के तहत फर्रूखनगर के रेलवे स्टेशन के आसपास रेलवे की ओर से खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा । जिनमें पारंपरिक खेल कुश्ती, वालीवाल कब्बडी का आयोजन किया जाएगा। रेलवे की ओर से हेल्थ कैंप का आयोजन आसपास के ग्रामीणों के लिए किया जाएगा जिसमें रेलवे के डाक्टरों की टीम ग्रामीणों की स्वास्थय जांच करेगी। एजुकेशन कैंप का आयोजन कर युवाओं को रेलवे की नौकरी से संबंधित जानकारी व उनकी तैयारियों के बारे में टिप्स दिए जाएंगे। कार्यक्रम में उपस्थित रेलवे अधिकारी रेलवे से संबंधित शिकायतों को भी सुनेंगे और उनके हल के लिए लोगों के सुझाव के साथ उन्हें हल करेंगे। रेलवे की ओर से फर्रूखनगर रेलवे स्टेशन पर भवन निर्माण के कार्यों के विकास का कार्य तेजी से किया जा रहा है।
delhincrnews.in reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here