हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने गुरुग्राम के सेक्टर 23 में ओपन जिम का रिबन काटकर उद्घाटन कर लोगों को अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने इस अवसर पर लोगों की समस्याएं सुनी व मौके पर उपस्थित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
इस अवसर पर लोगों ने लोक निर्माण मंत्री का पगड़ी पहनाकर स्वागत किया। इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि पेयजल की बर्बादी को रोकने के लिए गुरुग्राम के बड़े पार्कों में 87 एसटीपी लगाए जाएंगे जिनके जरिए पार्कों में पेड़ पौधों का रखरखाव किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत सर्वे की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और जल्द ही इस दिशा में काम शुरू कर दिया जाएगा ।उन्होंने बताया कि एक एसटीपी की लागत लगभग 25 लाख रुपए होगी। इस प्रकार यह पूरा प्रोजेक्ट लगभग 22 करोड रुपए का होगा। उन्होंने बताया कि गांव मोहम्मदपुर झाड़सा में इस प्रकार का एसटीपी बनाया जा रहा है जिसमें रोजाना 25 से 30 किलो लीटर सीवरेज का पानी शोधित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि एसटीपी में आसपास के एरिया के लोगों के घर से निकलने वाले सीवरेज के पानी को ट्रीट किया जाएगा और पार्कों में इस पानी का प्रयोग पेड़ पौधों के रख-रखाव में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इससे जहां एक तरफ शुद्ध पेयजल की बर्बादी पर रोक लगेगी वहीं दूसरी तरफ एसटीपी के माध्यम से गंदे पानी को ट्रीट कर उसका प्रयोग पेड़ पौधों के लिए किया जाएगा।
कार्यक्रम में लोक निर्माण मंत्री ने हरियाणा सरकार की उपलब्धियां भी गिनवाई। लोक निर्माण मंत्री ने कहा कि हरियाणा सरकार की मंशा है कि लोगों की अपेक्षाओं के अनुरूप ही प्रदेश में विकास कार्य करवाए जाएं। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों में लोगों की भागीदारी अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि यदि लोगों के पास विकास संबंधी अच्छे सुझाव है तो वे उनके  संज्ञान में अवश्य लाएं ताकि उसके अनुरूप भविष्य की रूपरेखा तैयार की जाए।
उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार प्रदेश की जनता को विकास कार्यों में अपना भागीदार बनाना चाहती है ताकि हम एक साथ आगे  बढ़ सके। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार के 4 साल के दौरान आरंभ की गई विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं व नीतियों के बारे में भी लोगों को अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि सरकार ने अपने अभी तक के कार्यकाल में सबका साथ सबका विकास तथा हरियाणा एक हरियाणवी एक की भावना के अनुरूप कार्य किए हैं । सरकार की इस सोच के सकारात्मक परिणाम भी सामने आने लगे हैं और आज देश प्रगति के पथ पर निरंतर अग्रसर है। प्रधानमंत्री कौशल केंद्र पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि यह केंद्र प्रदेश के हर जिले में स्थापित किए जा रहे हैं तथा 26 मार्च 2018 तक पूरे देश के 27 राज्यों के 484 जिलों तथा 406 संसदीय क्षेत्रों में 526 प्रधानमंत्री कौशल केंद्र आवंटित किए गए हैं जिनमें से अब तक 415 पीएमकेके स्थापित कर दिए गए हैं।
इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री ने लोगों का पर्यावरण संरक्षण के लिए भी आवाहन किया ।मंत्री ने कहा कि मॉनसून आने को है जो कि पेड़ पौधों के लिए सबसे अनुकूल समय समझा जाता है ।उन्होंने उपस्थित लोगों से अपील करते हुए कहा कि वे मानसून में अधिक से अधिक पेड़ लगाएं और पर्यावरण संरक्षण में अपना महत्वपूर्ण योगदान दें।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here