केंद्रीय योजना, रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह ने अपने गुरुग्राम के सैक्टर-15 पार्ट-2 स्थित आवास पर लोगों की समस्याएं सुनते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे बिजली-पानी की उचित व्यवस्था करवाएं ताकि लोगों को गर्मी के मौसम में पेयजल के लिए इधर-उधर भटकना ना पड़े।
राव इंद्रजीत सिंह गुरुग्राम से सांसद हैं और केंद्र में राज्यमंत्री हैं। उन्होंने गुरुग्राम में अपने निवास पर लोगों की समस्याएं सुनने का कार्यक्रम रखा था जिसमें समस्याएं लेकर काफी भीड़ उमड़ी। इनमें ज्यादा समस्याएं बिजली, पानी तथा सिवरेज आदि से संबंधित थी। बिजली-पानी की समस्याएं ज्यादा मिलने पर राव इंद्रजीत सिंह ने गुरुग्राम नगर निगम के अधिकारियों को आदेश दिए कि वे गुरुग्राम में बिजली-पानी की उचित व्यवस्था करवाएं और लोगों की समस्याओं को सुलझाने में रूचि लें। उन्होंने कहा कि सरकार अंतोदय की अवधारणा पर चल रही है और ऐसे में समाज के पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति तक सरकार सुविधाएं पहुंचाना चाहती है। यह कार्य यहां तैनात अधिकारियों तथा कर्मचारियों के माध्यम से पूरा होगा, इसलिए सभी अधिकारी तथा कर्मचारी आम जनता की समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुने और उनका समाधान करवाएं, तभी अंतोदय का मूलमंत्र सार्थक होगा।
समस्याएं सुनने के दौरान राव इंद्रजीत सिंह से ट्रांसपोर्टर भी मिले जिन्होंने बताया कि वे हर जगह अपनी बात रख चुके हैं लेकिन उन्हें अभी तक कोई राहत नहीं मिली है। ट्रांसपोर्टरों के प्रतिनिधि ने राव इंद्रजीत सिंह को बताया कि गुरुग्राम ही नहीं प्रदेश के छोटे-छोटे शहर जैसे रेवाड़ी, चरखी दादरी आदि में भी दिन के  समय ट्रको के लिए नो एंट्री है, जिससे ट्रांसपोर्टरों के सामने बड़ी कठिनाई आ रही है और वे समय पर माल नहीं पहुंचा पाते। उनकी समस्या सुनने के बाद राव इंद्रजीत सिंह ने कहा कि वे सभी पक्षों को सुनने के बाद ऐसी व्यवस्था करवाएंगे कि ट्रांसपोर्टरों को भी दिक्कत ना हो तथा शहर वासियों को भी कठिनाई ना आए।
नगर निगम पार्षद कुलदीप बोहरा द्वारा रखी गई समस्याओं पर राव इंद्रजीत सिंह ने मौके पर ही नगर निगम, बिजली निगम तथा एचएसवीपी के अधिकारियों को कार्यवाही करने के निर्देश दिए। इसमें पार्षद ने केंद्रीय मंत्री से आरडी सिटी को नगर निगम में शामिल करने का आग्रह करते हुए बताया था कि इसमें बिजली निगम द्वारा उपभोक्ताओं को व्यक्तिगत बिजली कनैक्शन नहीं दिए जा रहे। बिजली निगम ने पूरी आरडी सिटी का बल्क कनैक्शन दे रखा है और बिल्डर द्वारा एक मकान मालिक को नया कनैक्शन देने के लिए उससे ढाई से तीन लाख रूपए लिए जाने का आरोप है। साथ ही मीटर खराब होने की स्थिति में उपभोक्ता से 20 हजार रूपए वसूले जा रहे हैं जोकि गलत है।
राव इंद्रजीत सिंह ने बिजली निगम के अधिकारियों को आरडी सिटी वासियों की इस समस्या का समाधान करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा, गांव वजीराबाद वासियों ने डीएलएफ तथा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण द्वारा उनके गांव के पास शमशान घाट बनाने की योजना का विरोध किया है। ग्रामीणो का कहना है कि उनके  गांव का शमशान घाट तो पहले ही गांव में बना हुआ है और अब जो शमशान घाट डीएलएफ में बनना चाहिए था, वह उनके गांव के  नजदीक बनाने की योजना बन रही है। राव इंद्रजीत सिंह ने ग्रामीणों को विश्वास दिलाया कि शमशान घाट उनके गांव के नजदीक नहीं बनने दिया जाएगा।
इस अवसर पर केंद्रीय मंंत्री के साथ नगर निगम की मेयर मधु आजाद, डिप्टी मेयर सुनीता यादव, पूर्व मेयर विमल यादव, नगर निगम पार्षद आर एस राठी, डीसीपी अशोक बक्शी, नगर निगम के संयुक्त आयुक्त विवेक कालिया, गुरुग्राम दक्षिणी के एसडीएम सतीश यादव, नगर निगम के कार्यकारी अभियंता राव भोपाल सिंह सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here