भारत सरकार द्वारा लोगों को कैशलेस स्वास्थ्य सुविधा देने की दिशा में 30 अप्रैल को आयुष्मान भारत दिवस मनाया जा रहा है। यह दिवस ‘आयुष्मान भारत-राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना’ को मूर्त रूप देने के लिए मनाया जाएगा। योजना के तहत प्रत्येक परिवार को 5 लाख रूपये तक का अस्पताल का खर्च दिया जाएगा।
यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आर आर जोवल ने दी। वे गुरुग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक कर रहे थे। इस बैठक में सिविल सर्जन डा. बी के राजौरा के अलावा, संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। इस बैठक में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की मिशन डायरेक्टर अमनीत पी कुमार ने आयुष्मान भारत के बारे में विस्तार से जानकारी दी।
वीडियो कान्फ्रेंसिंग में उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने आयुष्मान भारत दिवस को लेकर विस्तार से चर्चा की। वीडियो कान्फ्रेंसिंग में श्रीमति अमनीत पी कुमार ने बताया कि ‘आयुष्मान भारत-राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना’ सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है जिसे अमलीजामा पहनाने के लिए सभी अधिकारियों का सहयोग महत्वपूर्ण है। उन्होंने योजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि विभागीय पोर्टल पर सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना-2011 का डाटा अपलोड कर दिया गया है। संबंधित जिला की एएनएम, आशा वर्करों तथा आंगनवाड़ी वर्करों द्वारा इस डेटा को वैरिफाई करके एडिश्नल डेटा क्लेक्शन का काम किया जाएगा। आयुष्मान भारत का उद्द्ेश्य पात्र परिवारों को योजना की पात्रता, योजना के लाभ, योजना के तहत सूचीबद्ध किए गए अस्पतालों की जानकारी देने के साथ-साथ परिवार के सदस्यों के डेटा को अपडेट करना है। इस योजना के तहत एक फॉर्मेट तैयार किया गया है। इस फार्मेट मे परिवार के सदस्य के मुखिया का मोबाइल नंबर व राशन कार्ड नंबर के साथ साथ अन्य सदस्यों की संख्या को अपडेट किया जाएगा।
कुमार ने बताया कि 30 अप्रैल को जिला की सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम सभा का आयोजन किया जा रहा है जिसमे लाभपात्रों की सूची को सार्वजनिक रूप से पढक़र सुनाया जाएगा। आयुष्मान भारत दिवस के दिन इस सूची को ग्राम सभा के आयोजन स्थल पर बाहर चस्पा किया जाएगा। जो लाभार्थी इस दिन ग्राम सभाओं में नही पहुंच पाएंगे उनके लिए 1 मई से 7 मई तक डोर-टू-डोर एक्टिविटी चलाकर डेटा को अपडेट किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आयुष्मान भारत दिवस को लेकर एएनएम, आशावर्कर तथा आंगनवाड़ी वर्करों की ट्रेनिंग करवाई जाएगी जो घर-घर जाकर लोगों को 30 अप्रैल को आयोजित होने वाली ग्राम सभाओं में आने के लिए प्रेरित करेंगी। उन्होंने बताया कि इससे पहले प्रदेश के अंबाला जिले में इसका पॉयलेट प्रौजेक्ट के रूप में सफल प्रयोग किया जा चुका है।
उन्होंने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयुष्मान भारत दिवस के तहत करवाए जाने वाली गतिविधियों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आयुष्मान भारत दिवस को लेकर यदि किसी भी स्वास्थ्य विभाग,एएनएम, आशावर्कर, आंगनवाड़ी वर्कर या अन्य किसी अधिकारी को कोई संशय हो तो वह टोल फ्री नंबर-1097 पर भी फोन करके अपने संशयों को दूर कर सकते हैं। यह टोल फ्री नंबर 23 अप्रैल से एक्टिवेट कर दिया जाएगा।
इस अवसर पर गुरुग्राम के सिविल सर्जन डा. बी के राजौरा, उप-सिविल सर्जन डा. नीलम थापर,पीएमओ डा. प्रदीप कुमार, जिला परिषद् के उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी ऋषि दांगी सहित कई वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here