चित्तौड़गढ़: डूंगला में मुख्यमंत्री ने वृद्धावस्था पेंशन योजना, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम एवं अन्य योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद किया

डूंगला में आयोजित बड़ी सादड़ी विधानसभा क्षेत्र के जनसंवाद कार्यक्रम में कुछ लोगों ने बिलोदा से बारोठ तक सड़क बनाने की मांग की। इस पर राजे ने मौके पर ही पीडब्ल्यूडी के अधिशाषी अभियन्ता को इसका एस्टीमेट बनाकर भेजने के निर्देश दिए

0
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के मंगलवार को चित्तौड़गढ़ जिले के डूंगला में आयोजित बड़ी सादड़ी विधानसभा क्षेत्र के जनसंवाद कार्यक्रम में आए लोगों ने राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं से मिल रहे लाभ के लिए राज्य सरकार का आभार जताया।
राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के लाभार्थी बच्चे आयुष खान की दादी ने अपने पोते के निःशुल्क हार्ट ऑपरेशन के बाद उसे नया जीवन मिलने पर मुख्यमंत्री को दुआएं दी और कहा कि इस सरकार ने जो सुविधाएं गरीब लोगों को दी है वैसी सुविधाएं आज तक किसी सरकार ने नहीं दी। राजे ने इस योजना के लाभार्थी बच्चों के परिजनों से संवाद किया और कहा कि राज्य सरकार ने हाल ही में नई घोषणा की है, जिसमें ऎसे बच्चे जिन्हें जन्मजात गंभीर हृदय संबंधी बीमारी है, उनका निशुल्क इलाज हो सकेगा। इस योजना का लाभ उन बच्चों को मिलेगा जिनके माता-पिता की आय ढाई लाख रुपये तक है।
मुख्यमंत्री से मंगलवार को जब जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान कुछ लोगों ने बिलोदा से बारोठ तक सड़क बनाने की मांग की। इस पर राजे ने मौके पर ही पीडब्ल्यूडी के अधिशाषी अभियन्ता को इसका एस्टीमेट बनाकर भेजने के निर्देश दिए।जनसंवाद के दौरान लोगों की मांग पर मुख्यमंत्री ने निकुम्भ सीनियर सैकण्डरी स्कूल में विज्ञान संकाय खोलने की घोषणा की। रामेश्वर लाल की आखों की तकलीफ दूर होगीI भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना के लाभार्थियों से संवाद के दौरान जब रामेश्वर लाल ने आखों में तकलीफ की बात कही, तो मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनकी जांच एसएमएस अस्पताल में कराकर ईलाज कराया जाए।
राजे विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से रूबरू हो रही थीं तब उज्ज्वला योजना की लाभार्थी महिलाओं पुष्पा और रूपा ने बताया कि पहले लकड़ी का चूल्हा जलाना पड़ता था। उज्ज्वला योजना में गैस कनेक्शन मिलने के बाद अब आराम मिला है।
मुख्यमंत्री ने शुभशक्ति योजना की लाभार्थी बालिकाओं से संवाद के दौरान उनसे पूछा कि आवेदन करने के कितने समय के बाद पैसा मिला। इस पर लाभार्थी बालिका अपर्णा और उर्मिला ने बताया कि उन्हें 6 से 8 माह बाद पैसा मिला। इस पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आवेदन मिलने के बाद योजना का पैसा लाभार्थी को मिलने में देरी न हो, यह सुनिश्चित किया जाए। राजे ने राजश्री योजना की लाभार्थी बच्चियों की माताओं से बात की और पूछा कि किश्त सीधे बैंक अकाउण्ट में आती है या नहीं। इस पर लाभार्थी सीमा, पूजा, जमना और कान्ता ने बताया कि उन्हें किश्तें समय पर मिलती हैं और पैसा अकाउण्ट में पहुंचने का मैसेज भी मोबाइल पर मिलता है। मुख्यमंत्री ने पालनहार योजना, वृद्धावस्था पेंशन योजना, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम एवं अन्य योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद किया और योजनाओं का फीडबैक लिया।
मुख्यमंत्री मंगलवार को डूंगला में जनसंवाद कार्यक्रम से पहले मेघावी छात्राओं को लैपटॉप एवं स्कूटी की चाबी दे रही थीं, तब राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बड़ी सादड़ी की मेघावी छात्रा फातेमा बोहरा ने श्रीमती राजे को बताया कि उसे हमारी बेटी योजना के तहत तीन साल से निःशुल्क शिक्षा का लाभ मिल रहा है। तब मुख्यमंत्री ने आत्मीयता भरे अंदाज में कहा कि ‘तुम तो मेरी बेटी हो’। उन्होेंने फातेमा को मन लगाकर पढ़ाई करने और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।
दिव्यांग लाभार्थियों को हियरिंग एड एवं अन्य उपकरण बांटते समय मुख्यमंत्री ने दिव्यांग बालक युवराज को दुलार किया और उसके साथ फोटो खिंचवाई। राजे ने मेधावी छात्राओं को लैपटॉप, दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल, स्मार्टकेन, श्रवण यंत्र तथा एमएसआईटी किट भी वितरित किए। उन्होंने संनिर्माण श्रमिक कार्ड योजना के तहत लाभार्थियों को चैक सौंपे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here