अंबेडकर जयंती पर राज्य सरकार द्वारा गुरुग्राम में विकास सदन के पास अंत्योदय भवन खोला गया है, जिसका उद्घाटन हरियाणा के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने किया। इस भवन में अंत्योदय सेवा केंद्र की शुरूआत की गई है जहां पर आने वाले हर व्यक्ति को बताया जाएगा कि वह केंद्र व राज्य सरकार की किन-किन योजनाओं के लिए पात्रता रखता है और उन योजनाओं के तहत वहीं पर उससे आवेदन भी भरवाया जाएगा।
अंत्योदय सेवा केंद्र के शुभारंभ अवसर पर राव नरबीर सिंह ने भारत रत्न डा. भीमराव अंबेडकर तथा महान विचारक एवं समाज सुधारक रहे दीन दयाल उपाध्याय के चित्रों पर पुष्प चढाकर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। इसके बाद राव नरबीर सिंह ने अंत्योदय सेवा केंद्र का अवलोकन किया जिस दौरान उपायुक्त विनय प्रताप सिंह द्वारा बताया गया कि इस केंद्र पर सभी सरकारी विभागों से संबंधित स्कीमों तथा योजनाओं की जानकारी देने के साथ-साथ पात्र व्यक्तियों से फार्म भरवाए जाएंगे।
मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज कुरुक्षेत्र से वीडियो कान्फे्रंसिंग के माध्यम से प्रदेश के गुरुग्राम सहित 7 जिलों में इस प्रकार के अंतोदय सेवा केंद्रों की शुरूआत की गई है। प्रत्येक जिला में एक मंत्री की ड्यूटी भी लगाई गई थी। गुरुग्राम में इस कार्य की जिम्मेदारी प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह को दी गई थी। मुख्यमंत्री ने अंत्योदय सेवा केंंद्रों के शुभारंभ अवसर पर राव नरबीर सिंह से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत भी की और सेवा केंद्र शुरू होने पर बधाई दी। मनोहर लाल ने बताया कि अभी प्रदेश के 7 जिलों में अंतोदय सेवा केंद्र खोले जा रहे हैं, उसके बाद प्रदेश के सभी जिलों में इस प्रकार के केंद्र खोले जाएंगे और धीरे-धीरे चरणबद्ध तरीके से उपमण्डल स्तर तथा ब्लॉक स्तर पर भी ऐसे केंद्र खुलेंगे ताकि आम जनता को योजनाओं का लाभ लेने के लिए इधर-उधर ना भटकना पड़े और उन्हें योजनाओं का लाभ उनके घर के नजदीक ही मिले।
बाद में मीडिया प्रतिनिधियों से बातचीत करते हुए लोक निर्माण मंत्री राव नरबीर सिंह ने कहा कि अंत्योदय सेवा केंद्र में केंंद्र व राज्य सरकार की 120 से ज्यादा स्कीमों का लाभ आम जनता को एक छत के नीचे मिलेगा। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की सुविधा शुरू करने वाला हरियाणा शायद देश का पहला राज्य है। साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार की बहुत सारी स्कीमें चल रही हैं, जिनके बारे में आम जनता तथा कम पढ़े-लिखे लोगों को जानकारी नहीं होती जिसकी वजह से वे उन स्कीमों का लाभ नहीं उठा पाते। उन्होंने बताया कि इस अंत्योदय सेवा केंद्र में आने वाले लोगों के लिए एक हैल्प डैस्क लगाया गया है जहां पर उसे टोकन नंबर मिलेगा। सेवा केंद्र में कंप्युटरीकृृत आठ काउंटर बनाए गए हैं और  टोकन नंबर के हिसाब से व्यक्ति को बुलाया जाएगा। प्रत्येक काउंटर पर सरकार के विभागों के माध्यम से चलाई जा रही सभी स्कीमों के फार्म भरवाए जाएंगे। इसमें एक कंप्युटर ऑप्रेटर की तरफ तथा दूसरा कंप्युटर आवेदक की तरफ दिखाई देगा। राव नरबीर सिंह ने कहा कि अब लोगों को सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने के लिए अलग-अलग विभागों में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
इस कार्यक्रम के बाद अंबेडकर सभा द्वारा आयोजित कार्यक्रम में भी राव नरबीर सिंह ने इस अंत्योदय सेवा केंद्र के शुभारंभ की जानकारी सभी लोगों को दी और बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल अंत्योदय के राष्ट्रीय संयोजक रहे हैं इसलिए उन्होंने समाज के सबसे अभाग्रस्त व जरूरतमंद व्यक्ति के मर्म को समझा है। मुख्यमंंत्री ने उन व्यक्तियों को सरकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए अंत्योदय सेवा केंद्र खोले हैं।
इस अवसर पर लोक निर्माण मंत्री के साथ हरियाणा डेयरी विकास प्रसंघ के चेयरमैन जी एल शर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष भूपेंद्र चौहान, नगर निगम पार्षद ब्रह्म यादव व कुलदीप यादव, मुख्यमंत्री की सुशासन सहयोगी गुंजन गहलोत, उपायुक्त विनय प्रताप सिंह, अतिरिक्त उपायुक्त आर के सिंह, नगराधीश मनीषा शर्मा, जिला राजस्व अधिकारी हरिओम अत्री, जिला शिक्षा अधिकारी रविंद्र कुमार, एनआईसी की जिला सूचना विज्ञान अधिकारी अंजलि धींगड़ा व विभु कपूर सहित कई गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter, delhincrnews.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here