इस अवसर पर एचआईवी एड्स के प्रति जागरूक करने के लिए विद्यार्थियों द्वारा पोस्टर बनाए गए। महाविद्यालय के शिक्षकों द्वारा एचआईवी एड्स के फैलने के कारणों और इससे सावधान रहने के तरीकों पर विचार विमर्श किया गया। इस मौके पर विद्यार्थियों के सम्मुख शिक्षकों द्वारा एड्स से बचाव के लिए नैशनल टोल फ्री नम्बर 1097 तथा नैको एड््स एप्प की जानकारी भी दी गई।
महाविद्यालय की प्राचार्या डाॅ. सुशीला कुमारी ने बताया कि एड्स एक लाइलाज बीमारी अवश्य है लेकिन इससे स्वयं को सुरक्षित रखा जा सकता है। उन्होंने कहा कि ‘बचाव में ही इलाज है’ को याद रखते हुए हमें सदैव सावधानी रखनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग एड्स से ग्रसित हैं उनके प्रति हमें घृणा नहीं करनी चाहिए।
रैड रिबन क्लब के अध्यक्ष डाॅ. प्रवीण सिंह ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य दिवस पर हम सभी को प्रण लेना चाहिए कि हम अपने स्वास्थ्य का पूरी तरह ध्यान रखेंगे। उन्होंने कहा कि आज का युवा जंक फूड की चपेट में आकर अपने स्वास्थ्य को बर्बाद कर रहा है। हमें ताजा एवं स्वच्छ भोजन ग्रहण करना चाहिए तथा प्रतिदिन व्यायाम करना चाहिए। तभी हम स्वस्थ रह सकेंगे तथा देश के विकास में योगदान दे सकेंगे। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विद्यार्थी को संयमित जीवन व्यतीत करना चाहिए ताकि एड्स जैसी बीमारी के चपेट में न आ सके। उन्होंने विद्यार्थियों को अपने परिवार तथा आसपास के लोगों को भी एड्स के प्रति जागरूक करने के लिए प्रेरित किया।
इस मौके पर प्राध्यापिका डाॅ. तरूण लता ने कहा कि नैशनल टोल फ्री नम्बर 1097 पर एड्स से सम्बंधित कोई भी जानकारी ली जा सकती है। नैको द्वारा बनाई गई एड्स एप्प पर भी हम एड्स ग्रसित लोगों के लिए सहायता हासिल कर सकते हैं।
इस अवसर पर कैप्टन राजकुमार, संजीव खुराना, डाॅ. अंजना शर्मा, सोनिका दांगी, रवि कुमार, राजीव शर्मा, महेश शर्मा, संजय कात्याल, सुरेंद्र कुमार तथा खेमसिंह, नवाज शरीफ, शाहरूख खान, विशाल, अमित, दीपक, योगेश, प्रेगति, सान्या सहित महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों एवं विद्यार्थियों ने एड्स के प्रति सावधान रहने का संकल्प लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here