सेक्टर 15 पार्ट एक स्थित श्रीराधा-कृष्ण मंदिर के सामने आयोजित जनकल्यण शिव-शक्ति महायज्ञ के तीसरे दिन यज्ञ में स्थानीय लोगों ने आहुति दी। साथ ही, दोपहर में श्रीमद्भागवत कथा में धर्म-परायणता और कर्म की प्रधानता को लेकर प्रवचन दिए गए। साथ ही, मंगलवार देर शाम आठ बजे महाआरती में बड़ी संख्या में भक्ताजनों ने भाग लिया। इस मौके पर गुरुग्राम के जिला जज ठाकुर हरनाम सिंह पत्नी के साथ महाआरती में मौजूद थे। इस दौरान स्वामी महायज्ञ के संचालक हरिओमजी महाराज ने रूद्राक्ष की माला देकर आशीर्वाद दिया।

बुधवार को तीसरे दिन यज्ञ मंडप में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच हवन आहुति दी गई। इस दौरान नौ कूंडों में यजमान के रूप में श्रद्धालुओं ने आहुति दी। दोपहर बाद पंडित देवेंद्र शास्त्री और पंडित राम अभिलाष ने श्रीमद्भागवत कथा को दूसरे दिन आगे बढ़ाया। इस दौरान प्रवचन में कहा गया है कि कर्म की प्रधानता ही भारतीय संस्कृति व धर्म का संदेश है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here