69वां गणतंत्र दिवस शांति निकेतन पब्लिक स्कूल सैक्टर-104 में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। विद्यालय की प्रबंध निदेशक उर्मिला दहिया ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया  और विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत किए गए मार्च पास्ट की सलामी ली। इस अवसर पर देशभक्ति से ओत-प्रोत रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए ।
अपने भाषण में दहिया ने कहा कि संविधान की बदौलत ही देश के सभी धर्मों, सम्प्रदायों व जातियों के लोगों को सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक दृष्टि से समान अधिकार प्राप्त हुए। दहिया ने कहा कि गणतंत्र दिवस का यह पर्व हमारे देशभक्तों के त्याग, तप और बलिदान से जुड़ा हुआ है। आजादी हासिल करने के लिए हमें एक लम्बा संघर्ष करना पड़ा। उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, नेताजी सुभाष चन्द्र बोस, डॉ.राजेन्द्र प्रसाद, पण्डित जवाहरलाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल, डॉ. भीमराव अम्बेडकर, मौलाना अबुल कलाम आजाद, शहीद-ए-आजम सरदार भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, चन्द्रशेखर आजाद और उधम सिंह जैसे अनेक महान स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदानों को याद करते हुए कहा कि उन्होंने जेलों में अंग्रेजों की अमानवीय यातनाएं सही और अमूल्य बलिदान दिए।
उन्होंने कहा कि यह गर्व की बात है कि आजादी की लड़ाई के दौरान हरियाणा के लोगों ने वीरता और बलिदान की नई मिसाल कायम की है। आजादी के बाद भी देश की एकता और अखण्डता की रक्षा के लिए कुर्बानी देने में हरियाणा के वीर जवान हमेशा आगे रहे हैं। राष्ट्र-भक्ति व देश-सेवा का ज़ज्बा हरियाणा के युवाओं में कूट-कूट कर भरा हुआ है। हमारे युवा देश की सीमाओं की रक्षा के लिए फौज में जाने को प्राथमिकता देते हैं। आज देश की सेनाओं में औसतन हर 10वां जवान हरियाणा से है। दहिया ने कहा कि हरियाणा के बच्चे हर क्षेत्र में देश में अग्रणी हैं।
इस अवसर पर विद्यालय प्रबंधन समिति के मुख्य संरक्षक आर एस दहिया ने भी अपने विचार रखे और युवाओं को देशभक्ति के लिए प्रेरित किया । उन्होंने शहीदों के बलिदान को याद करते हुए कहा कि इस आजादी के लिए असंख्य नौजवानों ने अपने प्राण न्यौछावर किए थे, उन्ही की बदौलत हमें आज यह दिन देखने को मिला। दहिया ने कहा कि हमें पूर्वजों द्वारा दी गई इस आजादी को सहेज कर रखना है। गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में सभी विद्यार्थियों व आए हुए लोगों में विद्यालय प्रशासन द्वारा मीठाई वितरित की गई। इस मौके पर विद्यालय के निदेशक सुनील दहिया, प्राचार्य कैप्टन एस के कुमार तथा विद्यालय का स्टाफ व आस-पास के लोग भी उपस्थित थे।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here