हरियाणा के मुख्य सचिव, डीएस ढेसी ने गुरुग्राम पहुंचकर स्थानीय अधिकारियों के साथ यहां चल रहे विभिन्न विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। यह बैठक गुरुग्राम के नवनिर्मित लोक निर्माण विश्राम गृह के सभागार में आयोजित की गई थी।
हुडा विभाग के अधिकारियों ने मुख्य सचिव के समक्ष बादशाहपुर नाला को चौड़ा व सुदृढ़ करने संबंधी रिपोर्ट रखते हुए भरोसा दिलाया कि सभी बाधाओं को दूर करके इस कार्य को अगले 5 महीने में पूरा कर लिया जाएगा। जीएमडीए के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वी उमा शंकर ने बताया कि बादशाहपुर नाले पर बहुआयामी रणनीति पर काम किया जा रहा है ताकि आने वाले बरसात के मौसम में हीरो होंडा चौक पर जल भराव ना हो। उन्होंने बताया कि यह कार्य पूरा होने के बाद इस नाले की क्षमता 1,750 क्युसिक हो जाएगी तथा हाईवे के नीचे बनाए गए क्लवर्ट की क्षमता 2,300 क्युसिक की गई है। पहले क्लवर्ट की ख्क्षमता केवल 500 क्युसिक की थी। उन्होंने बताया कि बादशाहपुर नाले के ऊपरी हिस्से में गांव घाटा के पास वन विभाग द्वारा चैक डैम बनाए जा रहे हैं ताकि बरसात का पानी का संचयन हो सके और वह जमीन में धीरे-धीरे चला जाए। इसके अलावा, वजीराबाद गांव के पास लगभग 43 एकड़ में बड़ा जलाशय बनाने की योजना तैयार की गई है ताकि बरसाती पानी जलाशय में डाल दिया जाए और बादशाहपुर नाले में कम से कम पानी आए।
उमा शंकर ने बताया कि नाले के ऊपरी हिस्से में थोड़ा काम बाकी है तथा ज्यादात्तर पूरा कर लिया गया है। बहुआयामी रणनीति के अंतर्गत हाइवे से आगे वाले नाले के लगभग 2.1 किलोमीटर हिस्से को सुदृढ़ व चौड़ा किया जा रहा है और इस दूरी में इस नाले को बॉक्स ड्रेन का रूप दिया जा रहा है। हाईवे से आगे वाले नाले के हिस्से में लगभग 1,600 मीटर की दूरी पर निर्माण कार्य प्रगति पर है तथा केवल खांडसा गांव में पडऩे वाले 600 मीटर की दूरी में निर्माण कार्य शेष रहता है। हुडा प्रशासक यशपाल यादव ने बताया कि इस 600 मीटर दूरी में जिन लोगों के मकान नाले के दायरे में आते हैं उन्हें सैक्टर-37 में वैकल्पिक प्लाट देने की प्रक्रिया चल रही है। उन्होंने बताया कि वैकल्पिक प्लाट देने का प्रस्ताव स्वीकृति के लिए हुडा के मुख्य प्रशासक के पास भ्भेजा हुआ है। यादव ने बताया कि यह कार्य पूर्ण होने के बाद बादशाहपुर नाले में बरसाती पानी प्राकृतिक बहाव से बहेगा, लेकिन हाईवे की सर्विस लेन पर बने सम्प से पानी निकासी के लिए पहले की तरह पम्पिंग की जाएगी।
जीएमडीए, नगर निगम तथा हुडा विभाग के अधिकारियों ने मुख्य सचिव को भरोसा दिलाया कि इस बार बरसात के मौसम में हीरो होंडा चौक पर जल भराव नही होगा। मुख्य सचिव ने पूछा कि पिछले साल बरसात में हीरो होंडा चौक पर पानी का अधिकतम डिस्चार्ज कितना था, जिस पर उमा शंकर ने बताया कि सभी विभागों में अच्छा तालमेल होने की वजह से पिछले वर्ष जल भराव ज्यादा नहीं हुआ और महाजाम जैसी स्थिति उत्पन्न नहीं हुई। साथ ही मुख्य सचिव के पूछने पर हुडा प्रशासक ने बताया कि द्वारका एक्सपै्रस-वे  के रास्ते में आने वाले भवनों के मालिको को सैक्टर-110ए तथा सैक्टर-37सी में वैकल्पिक प्लाट देने की व्यवस्था की गई है।
दिल्ली-जयपुर हाईवे पर गुरुग्राम शहर के चार मुख्य चौराहो पर अंडर पास का निर्माण लगभग पूरा
बैठक में मुख्य सचिव ने दिल्ली-जयपुर हाईवे पर गुरुग्राम शहर के चार मुख्य चौराहो पर चल रहे अंडरपास के कार्यो की प्रगति का भी जायजा लिया और पूछा कि इनमें कहीं कोई गतिरोध तो नहीं आ रहा। इस पर मुख्य सचिव को बताया गया कि इफको चौक पर सर्विस रोड़ को चौड़ा करने तथा अंडर पास के निर्माण में केवल एक पैट्रोल पंप बाधक है, जिसको शिफट करने के लिए तेल कंपनी को वैकल्पिक साईट का प्रस्ताव दिया गया है। एनएचएआई के अधिकारियों ने बताया कि इस पैट्रोल पंप की वजह से केवल 57 मीटर का हिस्सा ही बचा है, बाकि निर्माण पूरा हो चुका है। हुडा प्रशासक यशपाल यादव ने बताया कि तेल कंपनी को गोल्फ कोर्स एक्सटेंशन रोड़ पर वैकल्पिक साईट का ऑफर दिया गया है। इसी प्रकार, इफको चौक पर यु-टर्न और फलाईओवर को पूरा करने के लिए 220 केवी  तथा 66 केवी की बिजली की लाईने शिफट की जानी है, जिसे बिजली निगम के अधिकारियों ने फरवरी तक शिफट करने का भरोसा दिलाया है
सिगनेचर टॉवर चौक पर अंडर पास लगभग तैयार है और वहां जैपनीज होस्टल के सामने से बनाए जा रहे फुटओवर ब्रिज के राईट ऑफ वे में 66 केवी क्षमता की बिजली लाईन बाधक बनी हुई है जिसे जल्द हटाने के आदेश मुख्य सचिव ने दिए हैं। इसी प्रकार राजीव चौक पर भी एनएचएआई के अधिकारियों ने कहा कि अंडर पास का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है और अब इसे टैस्टिंग के लिए खोला जाएगा। राजीव चौक पर एक नोन मोटराईज्ड ट्रांसपोर्ट के  लिए बनाए जा रहे सब-वे में कोर्ट केस की वजह से रूकावट आ गई है, जिसे दूर करने के प्रयास किए जा रहे हैं। एनएचएआई के अधिकारियों ने बताया कि हीरों होंडा चौक पर निर्माणाधीन अंडर पास के कार्य को इस वर्ष मार्च तक पूरा कर लिया जाएगा।

खेडक़ी दौला टोल प्लाजा को शिफट करने के मामले पर भी हुई चर्चा
खेडक़ी दौला टोल प्लाजा को शिफट करने के मामले में उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने बताया कि इसके लिए 65 एकड़ भूमि एनएचएआई को स्थानांतरण का प्रस्ताव मंजूरी के लिए पंचायत विभाग के निदेशक को भेजा जा चुका है। उन्होंने बताया कि यह जमीन स्थानांतरित करने के लिए संबंधित पंचायतों द्वारा प्रस्ताव पारित करके दिया गया है। एनएचएआई के  अधिकारियों ने कहा कि केंद्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी की घोषणा के अनुरूप जमीन मिलने के तीन महीने के अंदर इस टोल को आगे शिफट कर दिया जाएगा।
जिला में नहीं है खाद की कमी
जिला में इस रबी सीजन में यूरिया और डीएपी खाद की उपलब्धता के बारे में मुख्य सचिव द्वारा पूछे जाने पर उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने बताया कि जिला में खाद की कोई कमी नहीं है और अब तक जिला में लगभग 8,100 मीट्रिक टन यूरिया तथा लगभग 4800 मीट्रिक टन डीएपी वितरित किया जा चुका है।
प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की भी की गई समीक्षा
प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की समीक्षा के दौरान मुख्य सचिव को बताया गया कि जिला में इस योजना के तहत सर्वेक्षण का कार्य पूरा किया जा चुका है। योजना के तहत जिला में 37,463 आवेदन प्राप्त हुए थे जिसमें से 32,255 आवेदन अफोरडेबल हाऊसिंग के तहत प्राप्त हुए हैं। नगर निगम के अधिकारियों ने बताया कि 15 जनवरी तक इसके लिए डीपीआर तैयार करके शहरी स्थानीय निकाय के निदेशक को भेज दी जाएगी।
Sandeep Siddhartha, Senior Reporter

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here