यशोदा हॉस्पिटल एवं रिसर्च सेण्टर, नेहरू नगर, गाजियाबाद द्वारा रविवार १७ दिसंबर को एक विशाल वेरिकोज वेन मेडिकल चेक अप कैंप लगाया जा रहा है; इस कैंप में ऐसे मरीज जो लम्बे समय से पैरो में गुच्छे या वेरिकोज वेन्स बीमारी से ग्रसित हैं वो वरिष्ठ सर्जन डॉ आशीष गौतम से निःशुल्क परामर्श ले सकेंगे एवं पैरों के नसों की जांच वैस्क्युलर डॉप्लर विधि से ५०% की छूट पर करा सकेंगे i
यह कैंप रविवार को प्रातः १० बजे से सायं ५ बजे तक यशोदा हॉस्पिटल, नेहरू नगर की ओ पी डी -१ में लगाया जायेगा. मरीज 8860191192 पर अपना मुफ्त रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं. कई लोगों में कोई लक्षण दिखाई नहीं देते हैं और वेरीकोस नसें सिर्फ देखने में अच्छी ना लगने के कारण चिंता का विषय होती हैं. कुछ मामलों में, वे दर्द और परेशानी देती हैं या खून के संचार में किसी मूल समस्या का संकेत होती हैं. डॉ आशीष गौतम बताते हैं कि पैर की नसों में मौजूद वाल्‍व, पैरों से रक्त नीचे से ऊपर हृदय की ओर ले जाने में मदद करते है। लेकिन इन वॉल्‍व के खराब होने पर रक्त ऊपर की ओर सही तरीके से नहीं चढ़ पाता और पैरों में ही जमा होता जाता है। इससे पैरों की नसें कमजोर होकर फैलने लगती हैं या फिर मुड़ जाती हैं, इसे वैरिकोज वेन्‍स की समस्‍या कहते हैं। इससे पैरों में दर्द, सूजन, बेचैनी, खुजली, भारीपन, थकान या छाले जैसी समस्याएं शुरू हो जाती हैं।
अब इसकी चिकित्सा यशोदा हॉस्पिटल में बिना बड़ी सर्जरी के लेज़र विधि से की जा सकती है तथा दिल्ली एनसीआर में इस तरह का कैंप गाजियाबाद में किसी अस्पताल के द्वारा पहली बार लगाया जा रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here