बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय में 8 व 9 दिसम्बर को ‘‘मार्ग निर्माण में नयी तकनीक’’ विषय पर होने वाली कार्यशाला की तैयारियां पूर्ण कर ली गयी है। उप मुख्यमंत्री, केशव प्रसाद मौर्य ने कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण करते हुए बताया कि कान्फ्रेन्स में आने वाले समस्त विशिष्ट अतिथियों की प्रोटोकाॅल के अनुसार सुविधायें दिये जाने की व्यवस्था पूर्ण कर ली गयी है। उन्होंने बताया कि इस बात का पूरा ध्यान रखा गया है कि विशिष्ट अतिथियों के आवागमन के समय यातायात सुगम रहे, कहीं पर भी जाम की स्थिति न हो।
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में निर्माण कार्यों के प्रयोग में लायी जा रही नवीनतम तकनीक एवं अन्य प्रदेशों में उपयोग में लायी जा रही नवीनतम तकनीक की जानकारी प्राप्त करने तथा देश के सर्वोच्च संस्थानों द्वारा की जा रही रिसर्च की जानकारी आपस में शेयर करने के उद्देश्य से ये लखनऊ कान्फ्रेन्स आयोजित की गयी है, जिसका उद्घाटन मंत्री सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय भारत सरकार, नितिन गडकरी जी द्वारा 8 दिसम्बर-2017 को 12ः30 बजे किया जायेगा।
उन्होंने बताया कि लखनऊ कान्फ्रेन्स में मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश तथा विभिन्न प्रदेशों के मंत्रीगण, अपर मुख्य सचिव लोक निर्माण विभाग, प्रतिष्ठित इन्जीनियरिंग कालेजों के सड़क तकनीक से जुड़े विशेषज्ञों, केन्द्रीय सड़क अनुसंधान के वैज्ञानिकों सहित लोक निर्माण विभाग के विभागाध्यक्ष व प्रमुख अभियन्ता शामिल होंगे।
उन्होंने कहा कि हमारा ये प्रयास सड़कों के मामले में सर्वोत्तम प्रदेश बनाने की दिशा में उठाया गया सशक्त प्रयास है। हमें उम्मीद है कि इस कार्यशाला के माध्यम से सड़क निर्माण की दिशा में नयी-नयी जानकारियां हासिल हो सकेंगी, जो प्रदेश की सड़कों बेहतर बनाने की दिशा में उपयोगी साबित होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here