मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में तहसील खजनी के उनवल कस्बे के चतुरबन्दुआरी गांव में आयोजित श्री ज्ञान सिंह स्मृति उप्र केसरी कुश्ती प्रतियोगिता के फाइनल में विभिन्न वर्गों के विजयी खिलाड़ियों को 51 हजार रुपये नकद एवं मेडल तथा उप विजेता खिलाड़ियों को 21 हजार रुपये नकद तथा मेडल देकर पुरस्कृत किया।
इस दौरान मुख्यमंत्री ने उपस्थित खेल प्रेमियांे एवं आमजन को सम्बोधित करते हुए कहा कि कुश्ती माटी से जुड़ा हुआ खेल है। कुश्ती हम सबको अपनी मिट्टी से जोड़ती है। आज इसको बढ़ावा देने की आवश्यकता है। यह प्रतियोगिता इस दृष्टि से एक प्रयास है। उन्होंने कहा कि आबादी के दृष्टि से उत्तर प्रदेश एक बड़ा प्रदेश है। यहां गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करने वाली आबादी के जीवन स्तर में सुधार के लिए हर व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में छिपी हुई प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने तथा आगे लाने के लिए जगह-जगह पर खेल एकेडमी बनाने की योजना है। सरकार इस दिशा में काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में खेल का माहौल तैयार किया जायेगा जिससे अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश के खिलाड़ी गोल्ड मेडल लायें। उन्होंने कहा कि चतुरबन्दुआरी गांव में मिट्टी के साथ-साथ मैट के अखाड़े की व्यवस्था की जायेगी, जिससे खिलाड़ी अभ्यास करके अन्र्तराष्ट्रीय स्तर पर देश-प्रदेश का नाम रौशन कर सकें।

इस अवसर पर खेल, युवा कल्याण, व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास मंत्री चेतन चैहान ने कहा कि पिछले 25 साल से खिलाड़ियों के लिए सरकारी नौकरी बन्द थी। प्रदेश में सरकार बनते ही 11 विभिन्न विभागों में खिलाड़ियों के लिए नौकरी की व्यवस्था की गयी है। साथ ही, रिटायर हो चुके अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कृत खिलाड़ियों को 20 हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन देने का भी कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक खिलाड़ी होने के नाते वे समस्याओं से भली भांति परिचित हैं। समस्याओं को दूर करने के लिए लगातार कार्य किया जा रहा है। खेलों को प्रोत्साहित करने के लिए हर कदम उठाया जायेगा तथा आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध करायी जाएंगी।
इस अवसर पर छात्र-छात्राओं ने सरस्वती वंदना, कुलगीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में विभिन्न जनप्रतिनिधिगण, शासन व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी, विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के प्रधानाचार्य तथा छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here