मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि चिकित्सक धरती पर भगवान है, वह जीवनदान दे सकता है। मरीज चिकित्सक पर बहुत भरोसा करते हैं कि वे उसके जीवन की रक्षा करेंगे। उन्होंने कहा कि आज आवश्यकता इस बात की है कि डाॅक्टर मरीजों के साथ सहानुभूति रखते हुए सेवाभाव से उनकी चिकित्सा करें। डाॅक्टर को परमार्थ की भावना अपने मन में रखनी चाहिए और इसके लिए सक्रिय कार्य करना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने यह विचार गोल्डन ब्लाॅसम रिज़ाॅट्र्स में किंग जाॅर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) के 1967 बैच के एमबीबीएस छात्रों द्वारा आयोजित स्वर्ण जयन्ती समारोह को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि यह प्रसन्नता की बात है कि चिकित्सा के क्षेत्र में 50 वर्ष की सेवा के उपरान्त इस संस्थान के छात्र आज यहां देश और विदेश से पहुंचे हैं। केजीएमयू के लिए यह एक गौरवशाली क्षण है। आप सभी प्रतिभा सम्पन्न छात्रों ने अपने संस्थान की मर्यादा रखी है और यहां एकत्रित हुए हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि केजीएमयू के छात्र देश-विदेश में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं। संस्थान के छात्रों ने चिकित्सा के क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवाएं देकर देश और प्रदेश का नाम रोशन किया है। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की कि इस अवसर पर अमेरिका तथा इंग्लैण्ड से 1967 बैच के 11 छात्र भी आए हैं। उन्होंने कहा कि केजीएमयू के पास 100 वर्ष से अधिक की विरासत है। इसके पास 4,000 बेड से अधिक का हाॅस्पिटल है। इस संस्थान की रैंकिंग में सुधार की दिशा में प्रयास किए जाने चाहिए ताकि यह देश अग्रणी संस्थान बन सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि चिकित्सकों की समाज तथा देश की स्वास्थ्य व्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका है। राष्ट्र निर्माण में चिकित्सकों के दायित्व से सभी अवगत हैं। उन्होंने कहा कि चिकित्सा संस्थानों द्वारा कोशिश की जानी चाहिए कि आधुनिक चिकित्सा विज्ञान का उपयोग प्रदेश के दूरवर्ती गांवों के रोगियों की चिकित्सा के लिए भी हो सके। चिकित्सा संस्थानों को, चिकित्सा विज्ञान के क्षेत्र में हुई प्रगति से निरन्तर अवगत रहना चाहिए और नवीनतम उपचारात्मक प्रौद्योगिकियों को अपनाना चाहिए। साथ ही, अपने पाठ्यक्रम को लगातार अद्यतन भी करते रहना चाहिए।

इस अवसर पर के0जी0एम0यू0 के कुलपति डाॅ0 एम0एल0 भट्ट, डाॅ0 अवधेश अग्रवाल, 1967 बैच के 110 छात्र तथा उनके परिजन सहित बड़ी संख्या में चिकित्सकगण मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here