प्रमुख सचिव, चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास, संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि मुख्यमंत्री उ.प्र. के रोजगार सृजन करने के निर्देशों के क्रम में प्रदेश में विद्यार्थियों को रोजगार परक शिक्षा एवं अनुभव देने के उद्देश्य से विभाग के विभिन्न कार्यालयों यथा गन्ना आयुक्त कार्यालय, गन्ना शोध परिषद, गन्ना किसान संस्थान, सहकारी गन्ना समिति संघ लि., राज्य चीनी निगम एवं सहकारी चीनी मिल संघ में स्नातक न्यूनतम 60 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण विद्यार्थियों के लिये इंटर्नशिप करने का कार्यक्रम शासन के आदेश पर प्रारम्भ किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में कृषि, विपणन, लेखा विधि कम्प्यूटर, शर्करा तकनीकि, अभियंत्रण आदि के भिज्ञ एवं इच्छुक विद्यार्थियों को प्रशिक्षित किया जायेगा।

रेड्डी ने यह भी बताया कि उक्त प्रोग्राम इंटर्नशिप छात्रों को शासन एवं उसके अधीनस्थ विभागों/कार्यालयों में हो रहे कार्याें से परिचित करायेगा एवं उन्हें अपने विषय से संबंधित विभिन्न कायों के संबंध में विशेष कौशल व्यावसायिक/व्यावहारिक अनुभव एवं सामूहिक रूप से टीम भावना के साथ कार्य करने का अवसर प्रदान करेगा।
प्रशिक्षण प्राप्त करने के इच्छुक विद्यार्थियों को न्यूनतम 60 प्रतिशत अंकों के साथ मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय अथवा संस्थान से स्नातक परीक्षा उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु इच्छुक अभ्यर्थी को गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग, उ.प्र. की वेबसाइट के आवेदन लिंक पर आॅनलाइन आवेदन प्रत्येक वर्ष में दो बार 15 फरवरी एवं 16 अगस्त तक किये जा सकेंगें। विस्तृत विवरण विभाग की वेबसाइट http://upcane.gov.in/ पर देखा जा सकता है।
प्रमुख सचिव ने बताया है कि प्रशिक्षण कार्यक्रम के सम्पन्न होने के उपरान्त प्रत्येक प्रशिक्षु द्वारा अपने संपूर्ण किये गये कार्य के संबंध में विस्तृत रिपोर्ट दी जायेगी। तत्पश्चात सफल प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षण प्रमाण-पत्र प्रदान किया जायेगा।
इस प्रशिक्षु कार्यक्रम के सफल अभ्यर्थियों को जहां एक ओर रोजगार के अनेक अवसर प्राप्त होंगे वहीं अभ्यर्थी अपना भी रोजगार स्थापित कर सकते हैं। तथा वे जिस कार्य क्षेत्र में अपना योगदान देंगे उसमें अपने कार्य अनुभव से सामूहिक रूप से मिलकर कार्य करने की भावना व नवविचार प्रदान करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here