शाहदरा स्थित बिहारी कालोनी में राष्ट्रीय कायस्थ विचार मंच का प्रथम राष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि आई.ए.एस (रिटायर्ड), अरुण कुमार सिन्हा और विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ समाजसेवी अशोक श्रीवास्वत रहे। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्जवलन एवं देवाधिदेव श्री चित्रगुप्त की पूजा-अर्चना के साथ की गई।

रविवारको राष्ट्रीय कायस्थ विचार मंच के राष्ट्रीय सम्मेलन में देशभर से आए कायस्थों के अलावा संस्था के अध्यक्षकार्यकारी अध्यक्षमहामंत्रीमहासचिवचिवकोषाध्यक्षसंगठन सचिवसंयुक्त सचिवमीडिया प्रभारी एवं प्रवक्तामुख्य समन्वयक,संयोजकप्रदेश पदाधिकारीजिला पदाधिकारीसम्बद्ध संस्था व संचालन समिति और सम्बद्ध संस्था प्रतिनिधि उपस्थित रहे। इस अवसर पर मुख्य अतिथि और राष्ट्रीय पदाधिकारियों का परिचय कराया गया। सम्मेलन और राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भाग लेने आए अतिथियों तथा पदाधिकारियों का प्रतीक चिन्ह देने के साथ-साथ शॉल और पटका ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।

राष्ट्रीय सम्मेलन में मंच के मकसद पर देश भर से आए कायस्थों ने विस्तार से चर्चा की। परिचर्चा का विषय था- देश भर में फैले प्राचीन श्री चित्रगुप्त मंदिरों तथा कायस्थ धर्मशालाओं की देख-रेख एवं जीर्णोद्धार में सहयोग करनाजातिगत आरक्षण और कायस्थ समाजप्रर्यावरण बचाओवरिष्ठ नागरिकों व महिलाओं का सम्मान और उनकी सुरक्षाबेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओगरीब परिवार के बच्चों की पढ़ाई में मदद करनाचित्रगुप्त मंदिरों में नित्य पूजा की व्यवस्था करनाविवाह में धन के अनावश्यक प्रदर्शन को रोकना तथा गरीब परिवार की कन्याओं के विवाह में मदद करना और चुनाव में कायस्थ उम्मीदवार निर्दलीय हो या किसी राजनीतिक पार्टी काउसका पुरजोर समर्थन करना। इस अवसर पर आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भी इस सभी मुद्दों पर विस्तार से चर्चा की गई।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में संस्था के संरक्षक भगवती प्रसाद श्रीवास्तवआरसी श्रीवास्तव,  राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय प्रकाश श्रीवास्तवराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष डॉ. अरुण कुमार वर्माराष्ट्रीय महामंत्री  एवं बिहार इकाई अध्यक्ष, सुमन कुमार मल्लिकझारखंड प्रदेश अध्यक्ष,दिवाकर सिन्हा,  राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं मीडिया प्रभारी जितेन्द्र बच्चन आदि मौजूद रहे। बैठक में मुख्य अतिथि के साथ-साथ समारोह में पधारे सभी वक्ताओं ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कायस्थ हित में बात की और राष्‍टीय कायस्थ विचार मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय प्रकाश श्रीवास्वत के इस कदम की सराहना करते हुए उन्हें हर स्तर पर पूरी तरह से सहयोग व समर्थन देने की घोषणा की है।

वहीं राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पूर्व में किए गए सभी मनोनयन को कार्यकारिणी समिति द्वारा अनुमोदन किया गया। आय-व्यय विवरण पारित कर बजट प्रस्ताव पर भी विचार करने के बाद अनुशंसा की गई। इसके अलावा बैठक में प्रस्तुत प्रतिवेदनों,  प्रस्तावों,  सुझावों,  कार्यक्रमों,  आमंत्रणोंआवेदनों और सम्मान प्रस्तावों पर विचार कर उनकी अनुशंसा की गई। साथ ही संचालन समिति द्वारा आगामी तीन महीने के लिए राष्ट्रीयप्रदेश और जिला पदाधिकारियों हेतु लक्ष्य निर्धारण भी किया गया।

राष्ट्रीय कार्यकारिणी में सर्वसम्मति से सुमन कुमार मल्लिक को राष्ट्रीय महासचिव की जगह राष्ट्रीय महामंत्री  बनाया गया तथा जयप्रकाश श्रीवास्तव को राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष बनाया गया तथा विष्णु विहारी सक्सेना जी को संरक्षक बनाया गया तथा राजेन्द्र कुमार श्रीवास्तव को प्रदेश महासचिव ( उत्तर प्रदेश इकाई ) तथा एम .के श्रीवास्तव को प्रदेश महासचिव ( लीगल ) ( दिल्ली प्रदेश इकाई ) एवं संजीव सक्सेना को प्रदेश अध्यक्ष ( दिल्ली प्रदेश इकाई ) बनाया गया

राष्ट्रीय कायस्थ विचार मंच सम्मेलन और राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में आए सभी पदाधिकारियों व अतिथियों का राष्ट्रीय महासचिव गौरव श्रीवास्तव ने जोरदार स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कृष्ण चंद्र श्रीवास्तव और मंच के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं चित्रगुप्त कल्याण संगठन (दिल्ली) के अध्यक्ष अनिल कुमार सक्सेना ने किया। जबकि राष्ट्रीय कायस्थ विचार  मंच की दिल्ली प्रदेश महामंत्री श्रीमती संतोष सक्सेना ने समारोह में आए सभी अतिथियों के प्रति आभार जताया। बैठक में कानपुर से राजेन्द्र कुमार श्रीवास्तव, ग़ाज़ियाबाद से राजीव रंजन श्रीवास्तव, वी .एस .भटनागर , जय प्रकाश श्रीवास्तव तथा अतुल सक्सेना आदि मौजूद रहे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here