गाजियाबाद, 1 अगस्त 2017: आज यहां 9 वीं और 11 वी कक्षा के विशेष तौर पर चुने हुए 100 विद्यार्थियों को फौजी तरीके से ड्रील करायी गई। ड्रील की एबीसी सिखाते हुए गौरव सेनानी बाबू राम यादव ने बांये और दायें मुडने की सघन प्रक्रिया का  फौजी अभ्यास कराया।

राष्ट्रीय सैनिक संस्था के सलाहकार सर्वेश मित्तल ने भारत माता और अनुशासन पर अपना वक्तव्य दिया। उन्होने कहा कि ईश्वर पूर्ण है। पूर्ण में से पूर्ण निकाल दे तो भी पूर्ण बचता है। यह परिभाषा केवल ”माँ“ के साथ पुरी होती है क्योकि माँ पूर्ण बच्चे को जन्म देने के बाद भी पूर्ण ही रहती है। इसलिये माँ को ही ईश्वर कहा गया है। जैसेः- हमारी माँ या देवी माँ है , वैसे ही भारत माँ भी है। प्रत्येक नागरिक की जिम्मेदारी है कि वो भारत माँ की रक्षा करें। उन्होने बच्चो को आजीवन जय हिन्द बोलने और बुलवाने का संकल्प दिलवाया। ट्रेफिक इस्पेक्टर विमल कुमार एवं उनके साथियों ने यातायात नियमों, यातायात चिन्हो, कैट आई, जैबरा क्रोसिंग, सूचनात्मक और  चेतावनी वाले चिन्हों के बारें में जानकारी दी। उन्होने हैलमेट लगाने और कार चलाते समय मोबाईल का इस्तेमाल न करने के सूझाव और उदाहरण दिये। आज सभी विद्यार्थियों , शिक्षको और राष्ट्रीय सैनिक संस्था के सदस्यों ने एक आवाज में यातायात विभाग से कहा: गजियाबाद के प्रत्येक चौराहो पर जैबरा क्रोसिंग पेन्ट करायी जाये; प्रत्येक डिवाइडर में अनावश्यक कट बन्द किये जायें; प्रत्येक माह कि दिनांक 10 को कार फ्री डे मनाने में प्रशासन सहयोग करें।

इस अवसर पर राष्ट्रीय सैनिक संस्था के अध्यक्ष, वीर चक्र प्राप्त, कर्नल तेजेन्द्र पाल त्यागी ने बताया कि भागिरथ पब्लिक स्कूल में यह पहला प्रारम्भिक सैनिक प्रशिक्षण है। इसके बाद राष्ट्रीय सैनिक संस्था की 21 प्रदेशो में कार्यरत ईकाईयों द्वारा ऐसा ही प्रशिक्षण अन्य स्कूलों में कराया जायेगा। यदि सरकार सैनिक प्रशिक्षण को अनिवार्य नही कर सकती तो भी राष्ट्रीय सैनिक संस्था स्कूलो में राष्ट्रीय एकीकरण और चरित्र निमार्ण की दिशा में कुछ प्रशिक्षण तो दे ही सकती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here