वृहस्पतिवार, 1 जून 2017: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को जेवर, जनपद गौतमबुद्धनगर की घटना का जल्द से जल्द खुलासा करने के सख्त निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि इस घटना को अंजाम देने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए, ताकि भविष्य में कोई भी आपराधिक तत्व ऐसा करने का दुःसाहस न कर सके।

मुख्यमंत्री जी आज शास्त्री भवन में घटना के प्रभावितों से भेंट कर रहे थे। मुलाकात के दौरान विधायक, धीरेन्द्र सिंह तथा जेवर नगर पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष, मोहम्मद यूनुस भी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने पीड़ित परिवार की बात को सहानुभूतिपूर्वक सुना और हर सम्भव मदद का आश्वासन दिया।

योगी ने घटना के मृतक के आश्रितों को 5 लाख रुपये की आर्थिक मदद प्रदान किये जाने की घोषणा की। उन्होंने प्रभावित परिवार को जल्द से जल्द न्याय दिलाने का निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा पीड़ित परिवार की महिलाओं एवं अन्य सदस्यों को शिक्षा सहायता, आर्थिक एवं सुरक्षा सहायता उपलब्ध करायी जाएगी।

मुख्यमंत्री से मुलाकात के दौरान विधायक, धीरेन्द्र सिंह ने उन्हें अवगत कराया कि वर्ष 2015 तथा 2016 में यमुना एक्सप्रेस-वे के आसपास लूट की आपराधिक घटनाएं हुई थीं, जिनमें से बड़ी संख्या में पंजीकृत नहीं की गयीं। जो अभियोग दर्ज किये गये उनकी विवेचना भी ठीक से नहीं की गयी, जिसकी वजह से उस क्षेत्र में बदमाश बेखौफ घूम रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार कानून-व्यवस्था के मामले में किसी भी प्रकार की समझौता नहीं करती हैं। प्रदेश सरकार यह तय कर चुकी है कि अपराध तथा अपराधियों के लिए उत्तर प्रदेश में कोई जगह नहीं होगी।

जेवर नगर पंचायत के पूर्व उपाध्यक्ष, मोहम्मद यूनुस ने कहा कि मुख्यमंत्री से भेंट के बाद उन्हें भरोसा हो गया है कि प्रभावितों के साथ न्याय किया जाएगा। दोषियों को सख्त से सख्त सजा दिलाई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here