हिन्डन बाई पास, जी टी रोड, गाजियाबाद 10 अप्रैल 2017:  आज यहाँ आरडब्ल्युए फेडरेशन गाजियाबयाद की प्रशासनिक सदस्य, संध्या त्यागी ने नगर निगम की 9 गाडियों को बिना ढ़के कुडा ले जाते हुए पकडां। गाडियों के ड्राईवरो के नाम नोट किये, उनकी चाबियां अपने कब्जे में ली और उनसे पूछा की अधिकतर गाडियों पर नम्बर क्यो नही लिखे है? इस का उनके पास कोई जवाब नही था।  संध्या त्यागी ने मौके पर आरडब्ल्युए फेडरेशन गाजियाबाद के चेयरमेन कर्नल तेजेन्द्र पाल त्यागी, महासचिव अजय जैन, सिटी जोन के सचिव अजीत निगम को भी बुला लिया।

संध्या त्यागी ने ऐसा पहली बार नही किया है। जब पहले बगैर ढके कुडा ले जाने वाली गाडियों  को पकडा गया था तो उन्हें वार्निगं देकर छोड दिया गया था की आगे से कुडे को ढ़क कर लाये ताकि वो सड़को पर न बिखरें और उसकी दुर्गन्ध से वातावरण दुषित न   हो। आज जिन ड्राईवरो को पकडा गया उनमें से कुछ के नाम है मोहन, त्रिभवन, सुनिल, गुलशन, राकेश, हेमन्त आदि।

कुडा निस्तारण के बारे में जब स्वास्थ अधिकारी डॉ आर के यादव से पूछा गया की गाडियों को बगैर ढके और बिना नम्बर के क्यों चलने दिया जाता है तो उनका जवाब था कि कार्यवाही जारी है। यह अत्यन्त दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है। नगर निगम की मुख्य जिम्मेदारी शहर को साफ रखने की आर्थात कुडा निस्तारण की है परन्तु इसकी स्थिति इतनी दयनिय और इतनी खराब कभी नही थी जो वर्तमान में है।

आरडब्ल्युए फेडरेशन गाजियाबाद के चेयरमेन कर्नल तेजेन्द्र पाल त्यागी ने इस सम्बन्ध में नगर निगम को पत्र लिखने के लिए कहा है। यदि बार बार लिखने के बाद और आश्वासन भी मिल जाने के  बाद अब तुरन्त आपेक्षित कार्यवाही नही कि गयी तो शहरी विकास मन्त्री को लिखा जायेगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here